राजेन्द्र शुक्ला ने मांगा 1-4 का सशस्त्र सुरक्षा गार्ड

IMG-20170518-WA0190बिलासपुर— जिला कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल ने आईजी और एसपी से कांग्रेस अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला की पुलिस गिरफ्तारी को गलत बताया है। प्रतिनिधि मंडल ने आईजी पुरुषोत्तम गौतम को बताया कि मदकू समाधान शिविर में जनता की आवाज उठा रहे कांग्रेस नेता राजेन्द्र शुक्ला और साथियों के खिलाफ 107, 116 का मामला दर्ज किया गया है। सब कुछ भाजपा नेताओं के इशारे पर किया गया है।

                         जिला कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल ने आईजी और कमिश्नर से मिलकर मदकूदीप में राजेन्द्र शुक्ला के खिलाफ पुलिस कार्रवाई को गलत बताया। प्रतिनिधि मंडल ने कहा कि जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला समस्या निवारण शिविर में जनता की आवाज उठा रहे थे। लोकतंत्र में जनता की आवाज को उठाना अपराध नहीं है। लेकिन जिला प्रशासन ने भाजपा नेताओं के इशारे पर राजेन्द्र शुक्ला समेत 40 कांग्रेसियों को गिरफ्तार किया। पथरिया के पशु चिकित्सक पर दबाव बनाकर सरगांव चौकी में रिपोर्ट भी दर्ज कराया गया।

              प्रतिनिधि मंडल ने बताया कि जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला की जान को खतरा है। जनसेवक होने के कारण शिविरों में जाना स्वभाविक है। सुरक्षा के मद्देनजर उन्हें 1-4 का सशस्त्र गार्ड दिया जाए। प्रतिनिधि मण्डल ने निहारिका बारिक और जिला पुलिस अधीक्षक से भी मुलाकात कर घटनाओं से अवगत कराया। साथ ही सुरक्षा गार्ड के लिए लिखित मांग भी की।

                      प्रतिनिधि मण्डल ने कमीश्नर निहारिका बारीक सिंह को बताया कि समाधान शिविर का भाजपाईकरण हो रहा है। मंच से भाजपा नेता कांग्रेस अध्यक्ष को गिरफ्तार करने का आदेश देते हैं। प्रशासनिक अधिकारी भाजपा नेताओं के दबाव में झूठी कार्यवाही करते हैं। मदकूदीप शिविर के दौरान कुछ इसी तरह की घटना हुई। अब मुंगेेली जिला प्रशासन पर 9 मई को हरदीटोला शिविर को लेकर राजेन्द्र शुक्ला पर अपराध दर्ज करने का दबाव बनाया जा रहा है।

                   प्रतिनिधिमंडल के साथ  राजेन्द्र शुक्ला ने कहा कि 19 और 20 मई को आयोजित होने वाली शिविरों में जान-माल का खतरा है। मुझे झूठे केस में फंसाया जा सकता है। इसलिए 1-4 का सशस्त्र गार्ड दिया जाए। ताकि लोकतांत्रिक ढंग से अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर सकूं।

                   प्रतिनिधि मंडल ने सुरक्षा गार्ड मांग पत्र राज्य गृह सचिव, मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक, अध्यक्ष मानवाधिकार आयोग के नाम पुलिस महानिरीक्षक और कमिश्नर को दिया।

                        प्रतिनिधिमंडल ने कमिश्नर और पुलिस महानिरीक्षक से जिला पुलिस मुंगेली में दर्ज रिपोर्ट को जांच कर वापस लेने के लिए कहा।

                                                प्रतिनिधि मंडल में जिलाध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला के अलावा प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव, प्रदेश सचिव मुंगेली जिला प्रभारी अर्जुन तिवारी, वरिष्ठ नेता शिवा मिश्रा, पूर्व महापौर राजेश पाण्डेय, पूर्व शहर अध्यक्ष विजय पाण्डेय, संभागीय प्रवक्ता अभय नारायण राय, नेता प्रतिपक्ष शेख नजीरूद्दीन, जिला महामंत्री राजेन्द्र साहू, शामिल थे।

                पत्रकारों को संभागीय प्रवक्ता अभय ने बताया कि 19 मई को मुंगेली जिले के सावा ब्लाक में आयोजित शिविर में राजेन्द्र शुक्ला कार्यकर्ताओं के साथ शामिल होंगे। इसकी जानकारी कमीश्नर, आई.जी. को दी गयी है। जिले की समस्त गतिविधियों के बारे में पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल और नेता प्रतिपक्ष टी.एस. सिंहदेव को अवगत कराया गया है।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...