कांग्रेस पार्षद ने किया इस्तीफा का एलान…सभापति ने कहा कौन है शैलेन्द्र

SHAILENDRA JAISAWALबिलासपुर(सीजीवाल.कॉम)।कांग्रेस पार्षद दल के प्रवक्ता शैलेन्द्र जायसवाल ने एक साल के भीतर इस्तीफा देने का एलान किया है। कांग्रेस नेता ने बताया यदि मंत्री के वादे के अनुसार एक साल में सिवरेज सुचारू रूप से चालू हो जाता है तो वह अपने पद से इस्तीफा दे देंगे। चैलेंज करते हुए शैलेन्द्र ने कहा कि यदि एक साल में सिवरेज ने सुचारू रूप से नहीं किया तो क्या महापौर और सभापति इस्तीफा देंगे। क्योंकि दोनो नेता सिवरेज को एक साल के भीतर कम्पलीट कर सुचारू रूप से चलाने का दावा कर रहे हैं। दो साल पहले सरकंडा में शुरू हुए सिवरेज का क्या हाल है इस बात की जानकारी उन्हें अच्छी तरह से है।

                       मालूम हो कि तीन दिन पहले शनिवार को सोशल मीडिया पर निकाय मंत्री ने जनता के सवालों का जवाब दिया। उन्होने एक सवाल के जवाब में कहा कि एक साल के भीतर सिवरेज का काम पूरा हो जाएगा। जनता की परेशानी भी खत्म हो जाएगी। निगम महापौर और सभापति ने मंत्री के उत्तर का समर्थन किया। शैलेन्द्र ने पत्रकारों को बताया कि यदि एक साल के भीतर सिवरेज बिना परेशानी पैदा किए चालू हो जाता है तो मैं अपने पद से इस्तीफा दे दूंगा। काम पूरा नहीं होने पर….क्या महापौर किशोर राय और सभापति अशोक विधानी ऐसा करेंगे।

              शैलेन्द्र ने बताया कि सरकंडा में सिवरेज का उद्घाटन मुख्यमंत्री ने किया था। उसका क्या हाल है..। किशोर राय और अशोक विधानी सिर्फ हां में हां मिला रहे हैं। उन्हें या तो सिवरेज की जमीनी हकीकत का पता नहीं है। या फिर हां में हां मिलाकर अपना रैंक बढ़ा रहे हैं। सिवरेज का कखगघ की जानकारी ना तो महापौर को है और ना ही अशोक विधानी को। ऐसे में दावा और समर्थन की एक साल के भीतर सिवरेज अच्छी तरह से काम करने लगेगा। दावा में सच्चाई है तो अशोक विधानी और किशोर राय मेरी तरह इस्तीफा देने का बयान जारी करें ।

                                    शैलेन्द्र ने बताया कि हवा हवाई वाली बातें हो रही है। भाजपा नेताओं को पता है कि एक सवाल में सिवरेज kishor rayचालू हो ही नहीं सकता है। क साल में केवल सिवरेज का ही काम चलता रहेगा। चालू होने की बात बहुत दूर की है।

कांग्रेस के नेता बयानबहादुर

                  शैलेन्द्र के इस्तीफा देने और शर्त स्वीकार करने के सवाल पर महापौर किशोर राय ने बताया कि कांग्रेस के नेता केवल बयानबहादुर हैं। महापौर वाणी राव के समय  कांग्रेस ने शहर के लिए क्या कुछ किया जनता जानती है। उन्हें बयान देने से फुर्सत नहीं है। शहर को कांग्रेसियों ने कचरा बनाकर रख दिया है। जनता ने निगम में भाजपा को सरकार बनाने और सेवा का मौका दिया है। सिवरेज का काम एक साल के अन्दर ना केवल पूरा हो जाएगा। बल्कि सुचारू रूप से काम भी करेगा। शैलेन्द्र जायसवाल इस्तीफा का बयान देकर जनता से सहानुभूति बटोरना चाहते हैं। जनता के साथ कांग्रेस पार्टी ने विश्वासघात किया है। शैलेन्द्र भी उसी पार्टी के हिस्सा हैं।  हम चुनाव जीतकर काम करने आए हैं। इस्तीफा देना हो तो शैलेन्द्र दें..हमे एतराज नहीं है।

क्या मंत्री से बड़े नेता हैं शैलेन्द्र

             निगम सभापति अशोक विधानी ने सीजी वाल को बताया कि शैलेन्द्र जायसवाल केवल एक पार्षद हैं। महापौर, सभापति या मंत्री से बड़े नहीं हो सकते हैं। ashok_vidhani_index_marchउन्हें इस्तीफा देने का शौक है तो दें। सिवरेज का काम जल्द ही पूरा होगा। जनता अभी परेशान है लेकिन सिवरेज शुरू होते ही सारी परेशानियां खत्म हो जाएंगीं। शैलेन्द्र और उनकी पार्टी ठीक से काम करनी तो उन्हें यह मुंह नहीं देखना पड़ता। कांग्रेस नेताओं को जनकल्याणकारी कार्यों में टांग अड़ाने की आदत है। यदि वे इस्तीफा नहीं देंगे…तो जनता ही उनसे इस्तीफा मांग लेगी। चुनाव में कांग्रेस की हार निश्चित है।

                                      अशोक विधानी ने बताया कि शैलेन्द्र कुछ ज्यादा ही पढ़े लिखे हैं। इसलिए इस्तीफा की बात करते हैं। क्योंकि उन्हें मालूम है कि जनता ने कांग्रेस को हराने का फैसला कर लिया है। यदि काम करते तो ऐसी स्थिति का सामना नहीं करना पड़ता। शैलेन्द्र जायसवाल सस्ती लोकप्रियता पाना चाहते हैं। इसलिए इस्तीफा की बात कर रहे हैं। लेकिन वह मंत्री और महापौर से बड़े नेता नहीं है। ऐसे में वह इस्तीफा मांगने वाले होते कौन हैं।

विशेष सम्मेलन से डर क्यों

                    शैलेन्द्र जायसवाल ने बताया कि सभापति,महापौर समेत भाजपा पार्षद विशेष सम्मेलन से डर रहे हैं। कांग्रेस पार्टी ने सिवरेज को लेकर सभापति से सामान्य सभा का विशेष सम्मेलन बुलाए जाने की मांग की है। लेकिन सभापति ने अनुमति नहीं दी। यदि साहस है तो सिवेरज मामले में बहस के लिए सभापति विशेष सम्मेलन बुलाकर दिखाएं। सवाल जवाब होगा…मालूम हो जाएगा कि एक साल में कैसे पूरा होगा सिवरेज का काम…।

loading...
loading...

Comments

  1. By Harnarayan Parche

    Reply

  2. By ऋषि पांडेय

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...