प्रधानमंत्री आवास योजना में कमीशन खोरी….हितग्राहियों ने किया घेराव

IMG20170612153409बिलासपुर— प्रधानमंत्री आवास योजना में ठेकेदारी का विरोध करने पहुंचे आजाद युवा संगठन और हितग्राहियों ने कलेक्टर और जिला पंचायत कार्यालय का घेराव किया। हितग्राहियों के साथ आजाद युवा संगठन के कार्यकर्ताओं ने बताया कि हितग्राहियों पर दबाव बनाकर ठेकेदारों से आवास निर्माण के मजबूर किया जा रहा है। अधिकारी चहेते ठेकेदारों से मैटेरियल खरीदने के लिए हितग्राहियों पर दबाव बना रहे हैं।

                          आजाद युवा संगठन ने प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों के साथ कलेक्टर कार्यालय और जिला पंचायत का घेराव किया। इशाक कुरैशी ने बताया कि हितग्राहियों पर अधिकारी चहेते ठेकेदारों से मैटेरियल खरीदने का दबाव बना रहे हैं। बिल्हा, कोटा, मस्तूरी ब्लाक के अधिकारी सचिव इंजीनियर और आवास मित्रों के जरिए कमीशनखोरी का काम कर रहे हैं।

                                   हितग्राहियों पर दबाव बनाकर उसकी राशि में कमीशनखोरी की जा रही है। ब्लाक अधिकारी हितग्राहियों को डरा धमकाकर चहेते ठेकेदारों से ही मेटेरियल लेने को मजबूर कर रहे हैं। इसके चलते प्रत्येक हितग्राहियों का 20 प्रतिशत राशि मुफ्त में अधिकारियों और ठेकेदारों की जेब में जा रहा है। कुरैशी ने बताया कि मकान ठेकेदार बना रहे हैं। जिसके चलते 100 प्रतिशत रकम में बनने वाला आवास 60 प्रतिशत राशि में ही बन रहा है। इसके चलते मकान की गुणवत्ता प्रभावित होना निश्चित है।

             कुरैशी ने जिला प्रशासन के अधिकारियों को लिखित शिकायत कर बताया कि मुख्यमंत्री ने हितग्राहियों को अपने से मकान बनाने की बात कही थी। उन्होने सुराज अभियान के दौरान कहा था कि हितग्राहियों के खाते में रकम भेजा जाएगा। वे शासन के देखरेख में अपने अनुसार मकान बनवा सकेंगे। लेकिन यहां उसके उल्टा हो रहा है। सारे मकान ठेकेदारी में बनाए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने दिया था आश्वासन

             चपोरा में सुराज अभियान के दौरान मुख्यमंत्री ने मंच से कहा था कि हितग्राहियों को अपना मकान खुद बनाना होगा। उनके खाते में रकम भेज दी जाएगी। यदि कोई चाहता है कि मकान ठेकेदार बनाए तो ठीक है। लेकिन मौके पर मकान होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *