व्यापारी से ढाई लाख की ठगी…

IMG-20170614-WA0032बिलासपुर–सिरगिट्टी थाना क्षेत्र के एक व्यापारी ने पहले तो धोखा खाया। तीन दिन बाद ठगों को पकड़कर पुलिस के हवाले भी कर दिया। तीनों ठग गुजरात के रहने वाले हैं। आरोपियों ने हेमुनगर निवासी किराना व्यवसायी को ढाई लाख में नकली जेवर बेचा था। पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ 420 और 34 का मामला दर्ज किया है। फिलहाल तीनों आरोपी तोरवा पुलिस के गिरफ्त में हैं।

                            तारबाहर पुलिस को पीड़ित ने ढाई लाख की ठगी करने वाले तीन आरोपियों को हिरासत में दिया है। तारबाह पुलिस ने एक पुरूष समेत अन्य दो महिलाओं के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। जानकारी के अनुसार सिरगिट्टी थाना क्षेत्र के हेमुनगर निवासी किराना व्यवसायी श्रीमल रामटेके के पास दो महिला और एक पुरूष जेवर बेचने आए। तीनों ने बताया कि उन लोगों को रूपयों की जरूरत है। मात्र तीन लाख में सारे गहने बेचना चाहते हैं। रामटेके के अनुसार मैने गहना देखा और तीनो को बताया कि कुछ महंगा है। लेना होगा तो सम्पर्क करूंगा।

                                                श्रीमल रामटेके ने बताया कि तीन दिन बाद तीनों में से किसी एक ने फोन कर बताया कि वे लोग अपने देश लौटना चाहते हैं। यदि जेवर खरीदना हो तो मिलें। मैने ढाई लाख रूपए में सारे जेवरों का सौदा किया। रेलवे स्टेशन स्थिति साँई मंदिर के पास तीनों को ढाई लाख रूपए दिया। और जेवर को अपने पास रख लिया। दूसरे दिन जेवरों को लेकर सोनी के दुकान गया। परखने के बाद बताया कि सारे जेवर नकली हैं। इतने सुनते ही मेरे होश उड़ गए।

                  मैने उन तीनों को जांजगीर की ट्रेन से जाते हुए देखा था। इसलिए तलाश शुरू कर दी। एक दिन पहले तीनों को जयरामनगर स्टेशन के पास देखा। तत्काल जीआरपी को जानकारी दी। जीआरपी के सहयोग से तीनों को तारबाहर थाना लाया गया।

                                   तारबाहर थाना प्रभारी निषाद ने बताया कि प्रार्थी श्रीमल रामटेके पिता बुधराम रामटेके की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है। दुलाजी समेत दो अन्य महिलाएं अतरी बाई,देवी बाई के खिलाफ धारा 420 और 35 का अपराध दर्ज कर गिरफ्तारी की गयी है। निषाद ने बताया कि तीनों आरोपी गुजरात के बडोदरा के रहने वाले हैं। पूछताछ और छानबीन के दौरान तीनों के पास से पचास रूपए और 8 मोबाइल जब्त किए गये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *