जोगी कांग्रेस का आरोप..जाति मामले में साय ने बनाया कर्मचारियों पर दबाव

IMG-20170714-WA0037बिलासपुर–जनता कांग्रेस नेताओं ने कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर जिला प्रशासन को बताया कि संवैधानिक पदों पर बैठे हुए लोग प्रशासनिक अधिकारियों पर दवाब बना रहे हैं। जाति को लेकर संवैधानिक पदों पर बैठे नेता अजीत और अमित जोगी पर अनावश्यक कार्रवाई के लिए दबाव बना रहे हैं। यह सच है कि हाई पावर कमेटी ने जोगी को कंवर जाति का नहीं माना है। लेकिन अजीत जोगी को हाईकोर्ट में अपील करने के लिए 90 दिन का समय है। जोगी पार्टी के नेताओं ने बताया कि भारत में कानून का शासन चलता है। संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों को यह बात अच्छी तरह से समझना चाहिए।

               जोगी कांग्रेस के नेताओं ने आज शाम कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर जिला प्रशासन का घेराव किया। जोगी समर्थकों ने कहा कि भारत में कानून का राज्य है। बावजूद इसके कर्मचारियों पर संवैधानिक पदों पर बैठे मौकापरस्त लोग जोगी की जाति को लेकर कार्रवाई के लिए दबाव डाल रहे हैं।

             जनता कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि एक दिन पहले राष्ट्रीय अनुसुूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष नंदकुमार साय ने अधिकारियों की बैठक जोगी परिवार के खिलाफ दबाव पूर्व निर्देश दिया है। साय ने अतिरिक्त कलेक्टर के.डी.कुंजाम पर जाति मामले मेंं कार्यवाही का दबाव बनाया है।

              जोगी पार्टी के नेताओंं ने बताया कि कार्यवाही के लिए दबाव बनाना संविधान और न्यायालय की अवमानना है। मामला उच्चतम और उच्च न्यायालय में है। न्यायलय ने अभी अंतिम फैसला नहीं किया है। जोगी को 90 दिन का समय मिला है। वह सुप्रीम कोर्ट में अपील करेंगे। बावजूद इसके अनावश्यक कार्रवाई के लिए कर्मचारियों पर दबाव डाला जा रहा है। जोगी समर्थकों ने राज्यपाल के नाम शिकायत में कहा है कि अधिकारियों पर दबाव डालकर कार्यवाही से जांच में बाधा आएगी। संवैधानिक पदाधिकारियों को कर्मचारियों पर बेवजह दबाव नहीं डालने का निर्देश दिया जाए।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...