प्रशासनिक लापरवाही से बच्चों की मौत…जोगी ने कहा-इंंसान और पशु सभी की जान जोखिम में

byte_3 ajit jogiरायपुर—-जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ अध्यक्ष अजीत जोगी ने आम्बेडकर अस्पताल में आॅक्सीजन सप्लाई नहीं होने से 4 नवजातों की मौत को  प्रशासनिक लापरवाही बताया है। जोगी ने बताया कि घरो के चार चिराग बुझा दिये गये। पदस्थ डाॅक्टर कर्मचारी और प्रशासनिक अधिकारी अपनी जिम्मेदारियों से बच नहीं सकते हैं। लेकिन अपने को निर्देोष साबित करने का प्रयास कर रहे हैं। सच्चाई यह है कि मेकाहारा के संबंधित विभागीय व्यक्तियों की लापरवाही से ही हादसा हुआ है। जोगी ने कहा कि दोषियों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का अपराध दर्ज किया जाए।

                                 पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा है कि गोरखपुर स्थित बी आर डी अस्पताल के दर्दनाक हादसे से प्रदेश सरकार को सतर्क होना जाना चाहिए था। अफसोस ऐसा कुछ नहीं हुआ। अम्बेडकर अस्पताल  में आक्सीजन सप्लाई रूकने से 4 मासूम बच्चों की मौत हो गयी।मौत की मुख्य प्रशासनिक अक्षमता है।

                    जोगी ने कहा कि लापरवाही और गैरजिम्मेदाराना हरकतो के कारण आज कल मरीजो के परिजन घर जमीन और एवं जेवरात बेचकर सरकारी अस्पताल के बदले निजि नर्सिंग होम मे इलाज कराना ज्यादा अच्छा समझते हैं। जोगी के अनुसार 14 सालों में सरकारी अस्पतालों की छवि जनता के बीच नकारात्मक है।

                  जोगी ने  सरकारी अस्पतालों में औचक जांच पड़ताल को आवश्यक बताया। लापरवाही की पुनरावृत्ति पर लगाम लगाने के लिए डाॅक्टरो के फ्लाईंग स्काड का गठन किये जाए। शासकीय अस्पतालो की अनियमितता और लापरवाहीपूर्ण गतिविधियो पर तत्काल कार्यवाही की जाए। दोषियों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जाए। जोगी ने कहा है कि प्रदेश में किसी भी विभाग और अधिकारियों में गाज गिरने का भय नहीं है ।जोगी ने बताया कि छत्तीसगढ़ में इंसान और पशु दोनो असुरक्षित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *