युवा कांग्रेसियों ने मांगा इस्तीफा..किया प्रदर्शन…कहा..छीन लिया मासूम का आक्सीजन

IMG-20170822-WA0033बिलासपुर— रायपुर में आॅक्सीजन की कमी से 4 मासूम बच्चों की मौत के बाद आज युवक कांग्रेस ने रैली निकालकर सिम्स के सामने प्रदर्शन किया। आंदोलनकारी युकांई ने मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री का इस्तीफा मांगा। युवक कांग्रेस  प्रदेश सचिव जावेद मेमन ने कहा कि उत्तरप्रदेश में 60 बच्चों की मौत के बाद भी प्रदेश सरकार ने सबक नहीं लिया। मेकाहारा में बच्चों की मौत के लिये जिम्मेदार अफसरों पर सख्त कार्रवाई की जाए। पीडित परिवारों को 10-10 लाख की सहायता राशि देने की मांग की है।

                                       युवक कांग्रेस नेताओ ने मेकाहारा रायपुर में अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही से 4 बच्चों की मौत के विरोध में रैली निकाली। सिम्स के सामने प्रदर्शन किया। आंदोलन में निगम नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन भी शामिल हुये। उन्होने चार मासूमों की मौत के लिए भाजपा सरकार को जिम्मेदार ठहराया। नजरूद्दीन ने कहा कि नसबंदी कांड, आंखफोड़वा कांड के बाद अब मासूम की जान ले ली गई है।

                 युवा कांग्रेस नेता जावेद मेमन ने कहा कि प्रदेश सरकार स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में पूरी तरह फेल हो चुकी है। मेकाहारा प्रबंधन की लापरवाही से बच्चों की मौत हुई है। प्रदेश के कई अस्पताल ऐसे है जहां स्वास्थ्य सेवा के नाम पर खानापूर्ति की जा रही हैं। अस्पताल भवन तो है लेकिन डाॅक्टर और सिलेंडर नहीं है। वार्ड ब्वाय मरीजों का अस्पताल में इलाज करते हैं। ग्रामीण क्षेत्र में मरीजों को काफी परेशानी हो रही है।

                     भाजपा सरकार सरकारी अस्पताल के बजाय निजी अस्पतालों को बढावा दे रही है। सिम्स और जिला अस्पताल में गिनती के मरीज पहुंचते है। सरकारी अस्पतालों में गहन चिकित्सा के इंतजाम नहीं हैं। जावेद ने प्रदेश मुखिया और स्वास्थ्य मंत्री से इस्तीफे की मांग की है।

                                     गोपाल दुबे ने बताया कि जो  सरकार आॅक्सीजन नही दे सकती है उससे दवाई की उम्मीद रखना बेईमानी है। छत्तीसगढ़ सरकार को आम जनता की समस्याओं से कोई वास्ता नहीं है। सरकार मासूमो की हत्या के पाप से बच नहीं सकती। नैतिकता के आधार पर सीएम और स्वास्थ्य मंत्री को पद छोड़ देना चाहिए।

                          सिम्स के मुख्यद्वार के सामने युवा कांग्रेसियों की रैली को पुलिस ने रोक लिया। नाराज कांग्रेसी गेट के सामने ही धरना पर बैठ गये। इस दौरान प्रमुख रूप से कांग्रेस नेता नरेन्द्र बोलर, शेख नजरूद्दीन, शाशी देवांगन, विनोद साहू, अरविन्द शुक्ला, रामा बघेल, युवा कांग्रेस के जिला उपाध्यक्ष आशीष गोयल, जिला महासचिव गोपाल दुबे, शेरू असलम, विनय वैद्ये, अल्पसंख्यक के मनदीप सिंह खनूजा, विधानसभा उपाध्यक्ष आशिक जावेद, सोहेल खलिक,इमरान खान, समेत कई कार्यकर्ता मौजूद थे।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...