किसने कहा कवासी को नाटकबाज…गौचर पर नेताओं का कब्जा…स्वास्थ्य विभाग ने बनाया कीर्तिमान

IMG-20170823-WA0013रायपुर–अजीत जोगी ने अंबेडकर अस्पताल में आक्सीजन की कमी से चार बच्चों की मौत पर जांच रिपोर्ट को संतोष जनक नहीं बताया है। जोगी ने दूसरी जांच कमेटी की मांग की है। जोगी ने दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की है। जोगी ने प्रेसवार्ता में गौसेवा आयोग के अध्यक्ष को बर्खास्त करने की मांग की है।

                रायपुर में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने पत्रकारों से चर्चा की। सवालों का जवाब दिया। जोगी ने कहा कि मेकाहारा अस्पताल में बच्चों की मौत के लिए नई जांच कमेटी का गठन की जाए।जोगी ने आक्सीजन की कमी से बच्चों की मौत पर संवेदना जाहिर करते हुए कहा कि मैं घटना की कड़े शब्दों में निन्दा करता हूं। जोगी ने बताया कि प्रदेश में कभी नसबंदी तो कभी अंखफोड़वा कांड में स्वास्थ्य विभाग ने कीर्तिमान बनाये हैं। इस बार अंबेडकर अस्पताल में बच्चों को मारकर स्वास्थ्य विभाग ने पुराने किर्तीमान को तोड़ा है।

                        पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा गौशालाओं में गायों की मरने की सूचना ने दिल दहलाकर रख दिया है। अनियमितता का मामला सामने आने के बाद गौसवा आयोग अध्यक्ष विशेश्वर पटेल को बर्खास्त करना चाहिए। जिन गौशालाओं के संचालकों से कमीशन राशि मिलती है। उन्हें अनुदान दिया जाता है। प्रदेश में कई गौशालाओं से कमीशन आता है। बावजूद इसके पिछले सात माह से अनुदान राशि नहीं दी गई है।

              जोगी ने गायों की चारे.पानी के अभाव में मौत से बचाने के लिए सरकार को तीन सूत्रीय सुझाव दिये। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गोचर की जमीनों को कांग्रेस और भाजपा के बड़े पदाधिकारियों ने कब्जा कर लिया है। सबसे पहले जमीनों को मुक्त कराया जाए। गौशालाओं को अनुदान देने में की जा रही अनियमितता और पक्षपात की जांच कर गलत गतिविधि पर रोक लगाई जाये। जिन लोगों ने गोचर भूमि पर कब्जा किया है उनके खिलाफ पार्टी कार्रवाई की जाए।

                          जोगी ने बताया कि बर्खास्त किए गए पुलिस अधिकारियों, शासकीय सेवा में पदस्थ अधिकारियों और कर्मचारियों की मध्यावधि मूल्यांकन किया जाना जरूरी है। मूल्यांकन में शासकीय सेवा नियमावली के मानदंडों पर खरा नहीं उतरने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। छत्तीसगढ़ सरकार ने मध्यावधि मूल्यांकन के बाद जो सूची जारी की है ऐसा लगता है कि किसी व्यक्ति विशेष ने पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर सूची बनाई है। सूची में अधिकतर नाम आदिवासी दलित और पिछड़े वर्ग के लोगों के हैं।

                                जोगी ने बस्तर कांग्रेस विधायक कवासी लकमा के पोलावरम विरोध को नाटक बताया । उन्होंने कहा  कि पोलावरम पर बांध बनवाया जाना देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का ड्रीम प्रॉजेक्ट है। कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर इसके लिए पीएम का आभार जताया है। जिस पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष पोलावरम बांध का समर्थन कर रहा है उस उसी पार्टी का विधायक विरोध क्यों कर रहा ।
छात्र संघ चुनाव न कराना राजनैतिक नई पौध को रोकने का प्रयास

जोगी ने कहा कि आज छत्तीसगढ़ के सभी पार्टियों के बड़े नेता छात्र राजनीति की उपज है । प्रदेश सरकार प्रजातान्त्रिक मूल्यों को नष्ट करना चाहती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *