सशक्त महिला ही बनाएगी…सशक्त देश..एसपी ने कहा…राष्ट्र निर्माण में महिलाओं की भूमिका महत्वपूर्ण

IMG-20170922-WA0030बिलासपुर/जांजगीर— प्राचीन भारत में महिला सशक्तिकरण जैसी कोई बात नहीं थी। क्योंकि महिलाओं और पुरूष में अधिकारों को लेकर जंग नहीं था। मतलब महिला और पुरूष को समाज के सभी क्षेत्रों में समान हैसियत थी। समय के साथ महिलाओं की स्थिति में गिरावट आयी। महिलाओं को कमतर आंका जाने लगा। किसी भी सभ्य समाज में महिलाओं को पुरूषों से नीचे आंकना ठीक नहीं है। संविधान में महिलाओं को समान दर्जा हासिल है। बावजूद इसके महिलाओं की आज भी ठीक नहीं है। यही कारण है कि महिलाओं को सशक्त बनाने सरकार लगातार प्रयास कर रही है। हर क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी को सुनिश्चित भी कर रही है। जगह-जगह जनजागरण अभियान चलाया जा रहा है।

             इसी क्रम में आज बृहत महिला जागृति एवं सम्मेलन का आयोजन किया गया है। यह बातें जांजगीर चांपा के पुलिस कप्तान अजय कुमार यादव ने कही।

                       जांजगीर जिले के केनापाली धुरकोट थाना डभरा में बृहत महिला एवं सशक्तिकरण सम्मेलन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि भारतीय प्रसाशनिक सेवा अधिकारी जांजगीर-चांपा पुलिस कप्तान अजय कुमार यादव शामिल हुए। कार्यक्रम में विशिष्ठ अतिथि के रूप में चन्द्रपुर के एसडीओपी सीडी तिर्की भी मौजूद थे।

                                  कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पुलिस कप्तान अजय यादव ने कहा कि महिला और पुरूष जीवन के दो पहिया हैं। ठीक इसी तरह देश और समाज में महिलाओं की भूमिका बराबर है। उन्होने कहा कि आज के कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को ना केवल सशक्त करना बल्कि देश के निर्माण में उनके योगदान को बताना भी है। पुलिस कप्तान ने कहा कि सरकार का प्रयास है कि महिलाओं को इस प्रकार के कार्यक्रम के बहाने उन्हें संवैधानिक अधिकारों की जानकारी देना है। उन्हें अपनी ताकत का अहसास दिलाना है। इस दौरान पुलिस कप्तान ने आदिकाल से स्वतंत्र भारत तक महिलाओं के योगदान को लेकर चर्चा की। अजय यादव ने इस दौरान कार्यक्रम में मौजूद सभी महिलाओ,युवाओ और बुजुर्गो को यातायात नियमों के बारे में भी जानकारी दी।

                          यातायात प्रभारी डीएसपी शीतल सिदार ने उपस्थित सभी लोगों को यातयात नियमों के बारे में बताया। दुर्घटना से बचने के मंत्र भी दिए। इस दौरान स्कूली बच्चों ने नाटक का मंचन किया। खेल खेल में महिला सशक्तिकरण की जानकारी दी। कार्यक्रम में एसडीओपी सीडी तिर्की ने भी अपने विचारों को रखा।

                       कार्यक्रम के अंत में मुख्य अतिथि अजय कुमार यादव ने महिलाओं और पुरूषों को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम आयोजक राम कुमार याव और तुलसी साहू ने भी अपने विचारों को सबके सामने रखा। इस दौरान थाना प्रभारी डभरा अजय शंकर त्रिपाठी, उप निरीक्षक पैकरा,तिवारी, पाटले समेत थाना स्टाफ मौजूद था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *