टी.एस. सिंहदेव बोले पत्रकार विनोद वर्मा के जान-माल की सुरक्षा की जिम्मेदारी रमन सरकार की

tsरायपुर।छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के नेताओं ने कहा है कि  रमन सरकार के कद्दावर मंत्री की तथाकथित सीडी कांड की घटना उजागर होने पर एवं वरिष्ठ पत्रकार एवं एडिटर गिल्ड के सदस्य विनोद वर्मा को उनके गाजियाबाद स्थित  निवास से अर्धरात्रि 03.30 बजे बिना किसी सबूत के गिरफ्तार किया। जबकि छत्तीसगढ़ पुलिस के दर्ज एफआईआर में श्री वर्मा का नाम भी नहीं है बावजूद उसके लोकतंत्र के चौथे प्रहरी को सुप्रीम कोर्ट के नियम विरूद्ध जाकर गिरफ्तार किया गया।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सभी वरिष्ठ नेताओ ने तत्काल रमन सरकार के मंत्री के इस्तीफे की मांग करने एवं पूरे मामले की जांच सीबीआई एवं स्वतंत्र जांच एजेंसी से कराने की मांग की है।साथ ही सरकार एवं पुलिस प्रशासन से वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा के जान-माल एवं परिवार की सुरक्षा की समुचित जिम्मेदारी की मांग की है।छत्तीसगढ़ विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष टी.एस. सिंहदेव ने कहा कि वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा की जान-माल की सुरक्षा की जवाबदारी बीजेपी सरकार की है। उन्होने कहा कि  विनोद वर्मा को जान का खतरा है, उनकी सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी एवं जवाबदारी रमन सरकार की है।
                                                         घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति में कहा है कि इससे छत्तीसगढ़ सरकार का चाल-चरित्र और चेहरा उजागर हो गया है। अपने ही मंत्री के तथाकथित आपत्तिजनक सीडी कांड उजागर होने से तिलमिलाई भाजपा सरकार ने बजाय उस मंत्री का इस्तीफा लेने की जगह वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा को गिरफ्तार लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर अंकुश लगाने का प्रयास कर रही है।
                                                           जहां एक ओर भारतीय जनता पार्टी चाल-चरित्र और चेहरे का ढोल पीटती है वहीं जब उनके ही कद्दावर मंत्री की आपत्तिजनक सीडी आने पर पूरी सरकार उस मंत्री को बचाने के लिये जी-जान से जुट जाती है। बेटी-बचाओ, बेटी पढ़ाओ का फर्जी नारा देने वाले बीजेपी सरकार के मंत्री की अश्लील एवं आपत्तिजनक सीडी के खुलासे से पूरा छत्तीसगढ़ प्रदेश शर्मसार हुआ है।
                                                               अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष मोतीलाल वोरा, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, नेता प्रतिपक्ष टी.एस. सिंहदेव, पूर्व केन्द्रीय मंत्री डाॅ. चरणदास महंत, विधायक धनेन्द्र साहू, पूर्व मंत्री सत्यनारायण शर्मा, पूर्व नेता प्रतिपक्ष रविन्द्र चौबे, दुर्ग लोकसभा सांसद ताम्रध्वज साहू, राज्यसभा सदस्य छाया वर्मा, पूर्व सांसद करूणा शुक्ला, पूर्व मंत्री मो. अकबर, पूर्व सांसद इंग्रिड मेक्लाउड, गंगा पोटाई, पुष्पा देवी सिंह, पी.आर. खुंटे, पूर्व मंत्री अमितेष शुक्ल, पूर्व विधायक गुरू रूद्रकुमार, अनुसूचित जाति विभाग के अध्यक्ष डाॅ. शिव कुमार डहरिया अनुसूचित जनजाति विभाग के अध्यक्ष शिशुपाल शोरी, विधायक मनोज मंडावी, प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन, महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी, विशेष आमंत्रित सदस्य राजेन्द्र तिवारी, पूर्व विधायक रमेश वल्र्यानी, कुलदीप जुनेजा, महापौर प्रमोद दुबे, देवेन्द्र यादव, पूर्व महापौर किरणमयी नायक, मीडिया चेयरमैन ज्ञानेश शर्मा, महेन्द्र छाबड़ा, सुशील आनंद शुक्ला, विकास तिवारी, आर.पी. सिंह, घनश्याम राजू तिवारी, शहर अध्यक्ष विकास उपाध्याय, किसान कांग्रेस के अध्यक्ष चंद्रशेखर शुक्ला, चैलेश्वर चंद्राकर, सूर्यमणि मिश्रा, संजय पाठक, दौलत रोहड़ा, पुष्पेन्द्र परिहार, समीम अख्तर, सद्दाम सोलंकी, सतनाम पनाग, एजाज ढेबर, देवेन्द्र यादव, पुरूषोत्तम चंद्राकर ने रमन सरकार के कद्दावर मंत्री जो अश्लील सीडी कांड में लिप्त है के इस्तीफे की मांग की है।
loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...