चाबी बनाने आए थे …..4 लाख के सोने के जेवरात पार कर दिए….. अब पुलिस की गिरफ्त में

IMG-20171102-WA0003बिलासपुर । पुलिस ने ताला -चाबी बनाने के नाम पर घरों में चोरी करने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश करने में कामयाबी हासिल की है।पकड़े गए आरोपी मध्यप्रदेश के रहने वाले हैं और उनसे अन्य राज्यों के मामले का भी खुलासा होने की उम्मीद की जा रही है। मामले की खास बात यह भी है कि पकड़े गए आरोपियों ने कल यानी 1 नवंबर को ही सरकंडा इलाके के जबड़ापारा में एक घर से ठगी कर सोने के जेवरात की चोरी की थी और पुलिस की तत्परता से दूसरे दिन ही पकड़ लिए गए।

पुलिस अधिकारियों ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि 31 अक्टूबर को जबड़ापारा  सरकंडा में प्रताप राय दोदवानी के घर दो लोग आए। उन्होने बताया कि वे ताला-चाबी बनाने का काम करते हैं। इस पर प्रतापराय की पत्नी और बच्चे ने अपने एक्टीवा की चाबी बनवाई। इस बीच उनकी पत्नी ने दोनों लोगों को बताया कि आलमारी की चाबी गुम गई है। जिसकी चाबी बनवाना चाहते हैं। इस पर दोनों ने आलमारी को देखा और उसका ताला खोलने की कोशिश भी की। लेकिन ताला नहीं खुला तो दूसरे दिन आने की बात कहकर चले गए।

दोनों आदमी  दूसरे दिन 1 नवंबर को फिर घर पहुंचे ।जिसमें एक व्यक्ति पहले दिन भी आया था और दूसरा साथी नया था। थोड़ी देर में दोनों चाबी बनाकर ताला खोले और चले गए। उनके जाने के बाद प्रतापराय की पत्नी ने जब आलमारी खोललकर उसका लॉकर चेक किया तो उसमें से सोने के जेवरात गायब थे। चोरी गए सोने के जेवरात में सात तोले सोने के दो कंगन- कीमती 2 लाख 10 हजार रुपए, तीन तोले  सोने का हार कीमती-90 हजार रुपए और एक ढाई तोला सोने का पेंडल सेट कीमती 75 हजार रुपए शामिल थे। जिसकी कुल कीमत करीब 3 लाख 75 हजार रुपए है।IMG-20171102-WA0004

प्रतापराय ने उसी दिन इसकी रिपोर्ट सरकंडा थाने में दर्ज कराई। साथ ही घर के सीसीटीवी कैमरे में रिकार्ड आरोपियों की तस्वीर भी दिखाई। इसकी खबर पुलिस के आला अफसरों को भी दी गई।जिला पुलिस कप्तान ने मामले की संजीदगी को देखते हुए एडीशनल एसपी शहर नीरज चंद्राकर, एडीशनल एसपी देहात अर्चना झा और सीएसपी कोतवाली शलभ सिन्हा को मामले पर नजर रखने की हिदायत दी। साथ ही एक स्पेशल टीम को नाकेबंदी कर आरोपियों की पतासाजी में लगाया गया। इसी दौरान रेल्वे स्टेशन पर चार  संदेही नजर आए। उनकी फोटो खींचकर प्रार्थी से पहचान कराई गई तो उन्होने पहचान लिया। इसके बाद आरोपियों को तोरवा थाने लाकर पूछताछ की गई। जो पहले तो टालमटोल करते रहे । लेकिन जब उनके सामान की तलाशी ली गई तो उसमे एक टेल्कम पॉवडर के डिब्बे में चोरी गए सोने जेवरात बरामद हो गए। आखिर उन्होने वारदात कबूल कर लिया।

पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को धारा 454, 380 के तहत गिरफ्तार कर लिया है।जिनमें बलवीर सिंह(22)  व नेपाल सिंह(20) -दोनों अम्बा-थाना बेडिया जिला खरगौन मध्यप्रदेश , जीतू सिंह चावला (22) ओखर नागलवाड़ी जिला बड़वानी , और सुनील सिंह (19) फोकटमुरा-थाना खकनार जिला बुरहानपुर मध्यप्रदेश शामिल है।उनके पास से चोरी के जेवरात और ताला-चाबी बनाने के औजार बरामद किए गए हैं। पुलिस के मुताबिक उन्होने पूछताछ में करीब डेढ़ साल पहले दिल्ली में इसी तरह आलमारी से जेवरात चोरी की वारदात करने की बात कही है। पुलिस का मानना है कि उनसे पूछताछ में और भी मामलों का खुलासा हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *