घड़ी चौक भूमि पूजन का विरोध…अटल,नजरूद्दीन,नरेन्द्र समेत पचासों कांग्रेसी गिरफ्तार…विरोध में नारेबाजी

  बिलासपुर—जिला कांग्रेस नेताओं ने आज छत्तीसगढ़ भवन पहुंचकर घड़ी चौक भूमि पूजन का विरोध किया। मंत्री और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। कांग्रेसियों ने मुर्दाबाद के नारे भी लगाए। नेहरू चौक के पास घड़ी चौक बनाने का विरोध किया। कांग्रेस नेता अटल श्रीवास्तव,जिला शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर,शेख नजरूद्दीन ने बताया कि भाजपा सरकार लोकतंत्र का गला घोंट रही है। पहले तो निमंत्रण दिया गया। बाद में पुलिस को बुलाकर गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है। कांग्रेसियों ने कहा कि हर कदम और हर समय नेहरू चौक के पास घड़ी चौक बनाने का विरोध किया जाएगा।

                      छत्तीसगढ़ भवन गार्डन के कोने में भूमिपूजन कार्यक्रम के पहले विरोध करने पहुंचे पचास से साठ कांग्रेसियों को पुलिस ने गिरफ्तार कोनी थाना भेज दिया। गिरफ्तारी के बाद निकाय मंत्री कार्यक्रम स्थल पहुंचे और 13 मीटर ऊंचा घड़ी स्तम्भ बनाने का शिलान्यास किया। इसके पहले कांग्रेसियों ने कार्यक्रम का जमकर विरोध किया गया। मंत्री और सरकार के खिलाफ नारबेजी भी की। मौके पर कांग्रेस पार्षद समेत नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन,रामा बघेल और कांग्रेस पार्षद दल प्रवक्ता शैलेन्द्र जायसवाल भी मौजूद थे।

                                         कार्यक्रम का विरोध और नारेबाजी कर रहे सभी कांग्रेस नेताओं के अलावा युवा नेता और पार्षदों को पुलिस ने बस में बैठाकर कोनी थाना भेज दिया। अटल ने बताया कि भाजपा सरकार की तानाशाही को अब जनता बर्दास्त नहीं करने वाली है। सोची समझी रणनीति के तहत नेहरू चौक को हटाने की साजिश की जा रही है। पहले घड़ी चौक बनाया जाएगा। इसके बाद देश को आजादी दिलाने वाले विश्व प्रसिद्ध नेता भारत रत्न की प्रतिमा को हटा दिया जाएगा।

             पुलिस ने शेख नजरूद्दीन को घसीटकर बस में भर दिया। शेख नजरूद्दीन ने पुलिस पर सरकार के इशारे पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया। नजरूद्दीन ने कहा कि पहले तो कार्यक्रम में बुलाया गया। इसके बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर थाने भेज दिया है। भाजपा की तानाशाही ने शहर प्रदेश और देश की जनता को बोलने का अधिकार छीन लिया है। नेहरू चौक के पास घड़ी चौक बनाने का औचित्य नहीं है। शहर में कई चौक चौराहे अभी भी खाली हैं। हम घड़ी चौक लगाने का समर्थन करते हैं। शासन जहां चाहे घड़ी चौक बनाए लेकिन नेहरू चौक के पास घड़ी चौक नहीं बनने दिया जाएगा।

            Screenshot_2017-12-08-12-49-58-91           इस दौरान युवा कांग्रेस नेता जावेद मेनन और पार्षद रामा बघेल को भी पुलिस ने घसीटकर बस में बैठाया। कांग्रेस पार्षद दल प्रवक्ता शैलेन्द्र जायसवाल ने कहा कि मंगला चौक शहर के सबसे व्यस्तम चौक में से एक है। कलेक्टर कार्यालय का दरवाजा इसी चौक से खुलता है। चौक खाली भी है। यदि महापौर और मंत्री चाहें तो मंगला चौक को ही घड़ी चौक बना सकते हैं। लेकिन नेहरू चौक पर ही घड़ी चौक को बनाने का फैसला सरासर गलत है। नेहरू विश्व के लोकप्रिय नेताओं में से एक हैं। एक चौक पर एक ही सिम्बाल होता है। लेकिन नहीं जानबूझकर छत्तीसगढ़ भवन के गार्डन को बरबाद किया जा रहा है। एक दिन ऐसा भी होगा कि नेहरू की प्रतिमा को हटा दिया जाए। चौक का नाम घड़ी चौक हो जाए।

                   इस दौरान कांग्रेस जिला अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर ने भी भाजपा और निगम सरकार पर घटिया राजनीति करने का आरोप लगाया। जमकर नारेबाजी की। पुलिस ने चन्द्र्प्रदीप वाजपेयी को भी घसीटकर बस में बैठाया। इसके अलावा गिरफ्तारी देने वालों मे कांग्रेस नेता तैयब हुसैन,ऋषि पाण्डेय,अभयनारायण राय, एनएसयूआई,युवा कांग्रेस नेता प्रमुख है। पुलिस ने गिरफ्तार सभी पचास से साठ कांग्रेसियों को कोनी थाना भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *