ठाकुर बलराम सिंह शक्तिपीठ के आजीवन सदस्य…बैठक में 3 वर्षीय कार्यकारिणी का एलान..सदस्यों ने दी बधाई

IMG-20171226-WA0027बिलासपुर—पूर्व विधायक ठाकुर बलराम सिंह को रतनपुर स्थित श्री सिद्ध शक्तिपीठ महामाया मंदिर ट्रस्ट का आजीवन सदस्य बनाया गया है। आजीवन अध्यक्ष बनाने का फैसला एक बैठक में सर्वसम्मति से लिया गया है। बैठक में 2017-20 कार्यकारिणी का भी एलान किया गया है। इस दौरान विशेष आमंत्रित सदस्य इंजीनियर एस.के.शुक्ला को मानद ट्रस्टी के लिए मनोनित किया गया है।

                 रतनपुर स्थित श्री सिद्ध शक्ति महामाया मंदिर पीठ ट्रस्ट के सदस्यों ने ठाकुर बलराम सिंह को आजीवन अध्यक्ष पद के लिए चुना है। आजीवन अध्यक्ष बनाने का फैसला वर्तमान कार्यकारिणी के सदस्यों ने सर्वसम्मति लिया है। बैठक में वर्तमान कार्यकारिणी के सदस्यों ने ठाकुर बलराम सिंह  के योगदान को भी याद किया। इसके अलावा मुख्य पुजारी और संरक्षक दयाराम शर्मा के निधन के बाद अरूण शर्मा पिता दयाराम शर्मा को ट्रस्टी और मुख्य पुजारी के पद पर नियुक्त किया गया। सुशील चंदेल के निधन के बाद खाली पद पर सुशील चंदेल को चुना गया।

                 बैठक में कार्यकारी अध्यक्ष बृजमोहन अग्रवाल, वरिष्ठ उपाध्यक्ष सतीश शर्मा, उपाध्यक्ष मनराखन लाल जायसवाल, मैनेजिंग ट्रस्टी सुनील सोन्थालिया,कोषाध्यक्ष पद के लिए भगवान आश्रय जायसवाल को एक बार फिर सर्वसम्मति से चुना गया।

                    सिद्ध शक्तिपीठ के ट्रस्टियों ने बताया कि श्री शक्ति पीठ ट्रस्ट का गठन 5 मार्च 1982 में किया गया। ट्रस्ट बनने  के बाद लगातार 35 साल से ठाकुर बलराम सिंह की अध्यक्षता में मंदिर का तेजी से विकास हुआ है। ट्रस्ट के पास आज 75 एकड़ ज़मीन,तीन बड़े धर्मशाला के अलावा 18 ज्योति कक्ष हैं। भक्तों ने माताजी को 4 किलोग्राम सोना चढ़ाया है। सिद्ध शक्तिपीठ ट्रस्ट रतनपुर के कई मंदिरो की भी देखभाल करता है।

               ट्रस्टियों ने बताया कि साल 1982 से मात्र 5 मनोकामना ज्योति कलश की शुरुआत हुई। आज ज्योति कलश की संख्या 30 हज़ार से अधिक पहुंच गयी है। सभी ने ठाकुर बलराम सिंह को आजीवन अध्यक्ष बनने की बधाई दी है।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...