पुरूष नसबंदी कांड पर जोगी कांग्रेस ने किया घेराव,आखिर सीएमओ को कहना पड़ा-बीएमओ को हटाएंगे

cfa_index_1_jpgnasbandi 1बिलासपुर । करगी रोड कोटा को सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र में बुधवार को पुरूष नसबंदी के बाद 4 लोगों की तबीयत बिगड़ने का मामला गरमाता जा रहा है। इस सिलसिलें में छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ( जोगी) के प्रमुख कार्यकर्ताओँ ने शुक्रवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ अधिकारी ( सीएमओ) ऑफिस का घेराव किया और व्यवस्था के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जोगी कांग्रेस के कार्यकर्ता इस बात पर अड़े रहे कि इस मामले में जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए । आखिर सीएमओ डॉ. बी बी बोर्डे को कैमरे के सामने आकर कहना पड़ा कि कोटा के बीएमओ को हटाया जाएगा।जैसा कि मालूम है कि पिछले बुधवार को कोटा के सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र में पुरूष नसबंदी शिविर का आयोजन किया गया था। जिसमें 14 लोगों के ऑपरेशन किए गए थे। नसबंदी कराने वाले 4 पुरुषों की उसी शाम तबीयत बिगड़ने लगी। पहले कोटा में ही इलाज किया गया । फिर उन्हे 108 एंबुलेंस से बिलासपुर लाया गया । यहां सरकंडा के एक निजी अस्पताल में दाखिल कर उनका फिर से दो बार ऑपरेशन किया गया ।



nasbandi 2इस घटना को लेकर प्रतिक्रिया शुरू हो गई है और राजनीति गरमाने लगी है। इस मुद्दे पर छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ( जोगी ) के प्रमुख कार्यकर्ताओँ ने शुक्रवार को सीएमओ ऑफिस का घेराव किया। उन्होने ऑफिस के सामने धरना दिया और व्यवस्था के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उनका कहना था कि यह स्वास्थ विभाग की घोर लापरवाही है। इसके पहले 2014 में बड़ा नसबंदी कांड हो चुका है। जिसमें 13 महिलाओँ की मौत हुई थी। कई महिलाएँ बीमार हुईं थीं और कई मासूमों के सिर से मां का साया उठ गया था। कुछ समय पहले मस्तूरी में भी नसबंदी के दौरान लापरवाही उजागर हुई थी। इस तरह की लापरवाहियों की कीमत बेकसूर लोग अपनी जान गंवाकर चुका रहे हैं। इस बार भी लापरवाही को दबाने के लिए लोगों को निजी अस्पताल में दाखिल कराया गया है।



nasbandi 3जोगी कांग्रेस के लोग इस मामले में सीएमओ का इस्तीफा भी मांग रहे थे। आखिर सीएमओ डॉ. बी बी बोर्डे को सामने आना पड़ा। प्रदर्शनकारियों ने उनके सामने सवालों की झड़ी लगा दी। उनसे पूछा गया कि बार-बार बिलासपुर जिले में ही ऐसा क्यों हो रहा है। वे यह भी जानना चाह रहे थे कि इस मामले में दोषी लोगों के खिलाफ क्या कार्रवाई की जा रही है। यह भी कहा गया कि जब तक कार्रवाई नहीं हो जाती हम यहां से नहीं हटेंगे। आखिर सीएमओ को कैमरे के सामने आकर कहना पड़ा कि इस मामले में कोटा के बीएमओ के हटाया जाएगा।
छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ( जेगी) के इस प्रदर्शन में विश्वंभर गुलहरे , समीर अहमद (बबला), जीतू ठाकुर , टिकेश प्रताप सिंह, विक्रांत तिवारी, आदि बड़ी संख्या में लोग शामिल थे।स्थिति को देखते हुए सीएमओ ऑफिस के सामने पुलिस बल तैनात किया गया था।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *