हिंसा के लिए भाजपा जिम्मेदार…कांग्रेस नेताओं का लगाया…नहीं मिली दलितों को सुरक्षा

abhayबिलासपुर— कांग्रेस नेताओं ने कोरेगांव हिंसा के लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है। प्रेस नोट जारी कर कांग्रेस नेता अभय नारायण और ऋषि पाण्डेय ने कहा है कि महाराष्ट्र के कोरे गांव में दलितों के कार्यक्रम में जानबूझकर हमला किया गया। हिंसा के बाद भाजपा की फूट डालो शासन करो की रणनीति सबके सामने है। अभय ने कहा कि महाराष्ट्र में व्याप्त हिंसा के लिए केवल और केवल भाजपा के नेता जिम्मेदार है।

                               अभय और ऋषि पाण्डेय ने संयुक्त प्रेस नोट जारी कर बताया कि आजादी के बाद से भारतीय जनता पार्टी धर्म और जाति की राजनीति कर रही है। एक विशेष धर्म और जाति को निशाना बनाया जा रहा है। खासतौर पर दलित समाज भाजपा के निशाने पर हैं। महाराष्ट्र के कोरेगाव में 200 साल से चली आ रही परम्परा निर्वेहन के दौरान अचानक हिंसा होना इसका सबसे सबूत है।

                 कांग्रेस नेताओं ने कहा कि कार्यक्रम का आयोजन दलित समाज ने किया। कार्यक्रम में साढ़े तीन लाख से ज्यादा लोग शामिल हुए। आयोजकों ने गुजरात के युवा नेता जीग्नेश मेवाड़ी और जेएनयू छात्र नेता उमर खालिद को संबोधन के लिए बुलाया। दोनों की उपस्थिति भाजपाइयों के गले नहीं उतरी। देखते ही देखते भीड़ अनियंत्रित हो गयी। दंगाइयों ने मौके का जमकर फायदा उठाया। यह जानते हुए भी कि दलित समाज की तरफदारी करने वाली पार्टी आरटीआई एनडीए का हिस्सा है।

युवा नेता जीग्नेश मेवाड़ी और जेएनयू छात्रनेता के खिलाफ दंगा भड़काने के आरोप में एफआईआर दर्ज किया गया है। लेकिन आयोजक आरपीआई के पदाधिकारियों के खिलाफ अपराधिक मामला दर्ज नहीं किया गया। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि आयोजन को लेकर सरकार गंभीर नहीं थी। मौके पर पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था का इंतजाम नहीं था। इससे जाहिर होता है कि शासन ने भाजपाइयों को दलितों पर हमला करने का मौका दिया है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...