ट्रायबल यूथ हॉस्टल के जरिए छत्तीसगढ़ के युवा भी सिविल सेवा के लिए हो रहे चयनित

नईदिल्ली/रायपुर।छत्तीसगढ़ सरकार के आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास विभाग द्वारा देश की राजधानी नईदिल्ली में ट्रायबल यूथ हॉस्टल का संचालन किया जा रहा है। यह प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक है। प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की दूरदर्शी सोच का प्रतिफल है। युवा कैरियर निर्माण योजनांतर्गत नईदिल्ली में स्थापित ट्रायबल यूथ हॉस्टल में प्रदेश के आदिम जाति, अनुसूचित जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग के प्रतिभावान छात्रों को संघ लोक सेवा आयोग, राज्य लोक सेवा आयोग एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए मार्गदर्शन उपलब्ध कराया जाता है। वर्ष 2012 से यह योजना संचालित की जा रही है।इस योजना के माध्यम से गत वर्ष यू.पी.एस.सी. 2016 की परीक्षा में छत्तीसगढ़ के तीन युवा सफल हुए है, जो पूरे प्रदेश के लिए गौरव की बात है। छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग के माध्यम से अब तक डिप्टी कलेक्टर के पद पर 3, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के पद पर 1, विभिन्न शासकीय पदों पर 16 एवं अधीनस्थ लेखा सेवा अधिकारी पर 1, कुल 21 अभ्यर्थियों का चयन हुआ है।




ट्रायबल यूथ हॉस्टल के जिन युवाओं का चयन यूपीएससी 2016 में विभिन्न केन्द्रीय सेवाओं के लिए हुआ है। उसमें डॉ. गगन गिरी गोस्वामी को 710वीं रैंक, लाल दास को 746वीं रैंक और श्री पीयूष कुमार लहरे को 977वीं रैंक मिली हे। डॉ. गगन गिरी गोस्वामी का भारतीय राजस्व सेवा ग्रुप ‘क’ में, लाल दास का भारतीय सीमा शुल्क और केन्द्रीय उत्पाद शुल्क सेवा गु्रप ‘क’ में और  पीयूष कुमार लहरे का भारतीय रेलवे यातायात सेवा ग्रुप ‘क’ में अंतिम रूप से चयन हो गया है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...