पदाधिकारियों ने खोला मांग का पिटारा…कुलपति ने कहा…गंभीरता से करेंगे विचार..10 मार्च तक शपथ कार्यक्रम

बिलासपुर—गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय नवनिर्वाचित छात्र परिषद पदाधिकारी और सदस्यों की कुलपति, कुलसचिव और छात्र कल्याण अधिष्ठाता के साथ पहली अनौपचारिक बैठक हुई। बैठक का आयोजन प्रशासनिक भवन स्थित कॉन्फ्रेंस हॉल में किया गया। इस दौरान छात्र परिषद के सदस्यों ने बेबाकी के साथ छात्र हित में किए वादों को सबके सामने रखा।

                छात्र परिषद निर्वाचन के बाद पदाधिकारी और सदस्यों के साथ प्रशासनिक भवन में विश्वविद्यालय के जिम्मेदार अधिकारियों के बीच बैठक हुई। बैठक मेंं छात्र नेताओं कई महत्वपूर्ण बिन्दुओं को कुलपति,कुलसचिव और छात्र कल्याण डीन के सामने रखा। कुलपति ने कुछ मुद्दों पर सहमति जताई और कुछ को प्रक्रिया का हवाला देकर जल्द से जल्द पूरा करने को कहा।

                     बैठक में छात्र परिषद के नेताओं ने प्रमुख रुप से कैंपस सिक्योरिटी, अनुसूचित जाति स्कॉलरशिप के मुद्दे को गंभीरता के साथ उठाया। नव निर्वाचित पदाधिकारियों ने विश्वविद्यालय के नव निर्मित भवनों में विभागों का संचालन शुरू करने की मांग की। बालक और बालिका छात्रावास में सुविधाओं में बढ़ोतरी करने को कहा। विश्वविद्यालय में महिला डॉक्टर की नियुक्ति को लेकर चर्चा की।

              छात्र परिषद ने कहा कि विश्वविद्यालय के विभिन्न गतिविधियों में शामिल छात्र छात्राएं शामिल होती हैं। जिसके कारण अटेंडेंस शार्ट हो जाता है। इसलिए ऐसे छात्र छात्राओं को अटेंडेस में छूट दिया जाए। पदाधिकारियों ने कहा कि विश्वविद्यालय में मीडिया सेल,करियर काउंसलिंग सेल के अलावा प्रत्येक विभाग में ई-क्लास रूम की व्यवस्था की जाए। नेशनल कैडेट कोर्स की स्थापना को लेकर छात्र परिषद ने कुलपति,कुलसचिव पर दबाव बनाया।

                  कुलपति ने सभी मांगों को यथाशीघ्र पूरा करने का आश्वासन दिया। अंजिला गुप्ता ने कहा कि 10 मार्च तक शपथ ग्रहण समारोह की सारी औपचारिकताएं पूरी कर ली जाएंगी । बैठक में छात्रपरिषद अध्यक्ष उदयन शर्मा ,उपाध्यक्ष अंवेशिका मिश्रा, सचिव सौरनाव जाना, सहसचिव विवेक शर्मा समेत परिषद के सभी सदस्य मौजूद थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *