आंगनबाड़ी केन्द्रों में तालाबंदी करने वाले वर्कर होंगे बर्खास्त

धमतरी।जिले में स्थित आंगनबाड़ी केन्द्रों की कार्यकर्ताओं के हड़ताल पर जाने तथा कहीं-कहीं तालाबंदी किए जाने की शिकायत को कलेक्टर डॉ. सी.आर. प्रसन्ना ने गम्भीरता से लेते हुए जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग तथा जनपद पंचायतों के सी.ई.ओ. को यह निर्देशित किया कि हड़ताल पर गए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं को सख्ती से नोटिस दें। उन्होंने यह भी कहा कि आज शाम तक उन्हें नोटिस दें। यदि इसके बाद भी वे काम पर वापस नहीं आती हैं तो उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए कल से बर्खास्तगी की कार्रवाई करें।

कलेक्टर ने जिले के चारों ब्लॉक के परियोजना अधिकारियों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक लेकर नाराजगी जाहिर की कि कार्यकर्ताओं के हड़ताल पर चले जाने से शासन की अनेक महत्वपूर्ण योजनाएं प्रभावित हो रही हैं और शासन यह कतई बर्दाश्त नहीं कर सकता कि नौनिहालों के भविष्य के साथ कोई खिलवाड़ करे। कार्यकर्ताओं को यह अधिकार नहीं है कि शासकीय केन्द्रों में वे अनधिकृत तौर पर ताले जड़ें।

उन्होंने मामले की संजीदगी को दृष्टिगत करते हुए बैठक में यह निर्देशित किया कि नोटिस के बाद भी आज शाम तक काम पर वापस नहीं आने वाली कार्यकर्ताओं पर सीधे तौर पर बर्खास्तगी की कार्रवाई करें। इसके लिए उन्होंने जिले के तीनों अनुविभाग के अनुविभागीय अधिकारियों सहित जनपद पंचायतों के सी.ई.ओ. को आज ही नोटिस जारी करने की कार्रवाई पूर्ण करने और कार्यकर्ताओं पर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

साथ ही उनके स्थान पर गर्भवती महिलाओं के लिए गर्म भोजन तैयार करने वाली महिलाओं या मध्याह्न भोजन योजना के तहत काम करने वाली महिला रसोइयों अथवा महिला स्वसहायता समूह की सदस्यों को तात्कालिक तौर पर कार्यभार सौंपने और निर्बाध रूप से आंगनबाड़ी केन्द्र संचालित करने के भी निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *