शिक्षाकर्मियों ने दिया 2 अप्रैल तक अल्टीमेटम,करेंगे मूल्यांकन का बहिष्कार

अम्बिकापुर।बोर्ड परीक्षाओं का मूल्यांकन कार्य इस बार खतरे में हैं । शिक्षाकर्मी संगठनों ने मूल्यांकन कार्य बहिष्कार की चेतावनी सरकार को दी है । छत्तीसगढ़ पंचायत नगरीय निकाय मोर्चा के संचालक मनोज वर्मा , सर्वजीत पाठक व राकेश वर्मा ने बताया कि इस बार जिले सहित पूरे प्रदेश के शिक्षाकर्मी बोर्ड परीक्षाओं के मूल्यांकन कार्य का बहिष्कार करेंगे । सरगुज़ा जिला के मोर्चा के सभी संचालक सहित जिले के शिक्षाकर्मी 26 मार्च को मूल्यांकन कार्य बहिष्कार करने का ज्ञापन जिले के कलेक्टर को सौंपेंगे।

मनोज वर्मा ने बताया कि 16 मार्च को मुख्य सचिव ने सभी संगठन प्रमुख का बैठक बुलाया था । खुद बुलाने के बावजूद सभी की बातें नही सुनी बैठक के बीच मे उठ कर चले गए। इस तरह का व्यवहार से शिक्षाकर्मियों के प्रति सरकार का रवैया स्प्ष्ट दिखता है।साथ ही शिक्षाकर्मियों के मांगो के लिए बनी कमेटी का कार्यावधि 1 माह के लिये बढ़ा दिया। हमारी मांगो के संदर्भ में सरकार हर पहलू से वाकिफ है ।

बस इस तरह से कमेटी बनाना और उसका कार्यकाल बढ़ा देना केवल और केवल समय की बर्बादी है। पूरे प्रदेश के शिक्षाकर्मी शाशन के रवैये से आक्रोशित हैं सरकार चाहे तो शीघ्र संविलियन कर शिक्षाकर्मियों के आक्रोश से बच ले।

मोर्चा के जिला संचालकों ने कहा की 2 अप्रेल तक अगर हमारे मांगो को लेकर शाशन की ओर से कोई स्पष्ट सकारात्मक पहल नही दिखाई देता है तो 3 अप्रेल से जिले के शिक्षाकर्मी मूल्यांकन कार्य का विरोध करेंगे। साथ ही मोर्चा संचालक ने 26 मार्च को मूल्यांकन कार्य के बहिष्कार का ज्ञापन सौंपने जिले के शिक्षाकर्मियों को जिला मुख्यालय पहुचने को कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *