शिक्षा कर्मियों को नहीं मिल रहा समय पर वेतन…. आदेश की धज्जियां उड़ा रहे अफसर… विकास राजपूत ने की अफसरों पर कार्रवाई की माँग

दुर्ग ।    नवीन शिक्षाकर्मी संघ के जिलाध्यक्ष संजीव मानिकपुरी व सचिव बी.प्रकाश के नेतृत्व मे जिला इकाई द्वारा दुर्ग द्वारा समय पर दुर्ग जिला के शिक्षाकर्मियों को वेतन मिले इस सम्बन्ध मे आंदोलन से लेकर ज्ञापन सौपने का कार्य लगातार किया जाता रहा है हर बार जिले मे पदस्थ उच्चाधिकारियों ने नवीन शिक्षाकर्मी संघ को आश्वस्त किया था की राज्य से आबंटन रहने पर समय पर वेतन का भुगतान कर दिया जायेगा लेकिन आबंटन रहने के बाद भी कुछ न कुछ तकनीकी कारण बताकर समय पर वेतन देने के बजाय लटका कर रख दिया जाता है जिसके कारण आज तक समय पर दुर्ग जिले के शिक्षाकर्मियों को वेतन भी नसीब नही हुआ है ।
प्रान्तीय सचिव गिरीश साहू व प्रवक्ता दुष्यंत कुम्भकार,मनोज चन्द्रा ने कहा है कि समय पर वेतन नही मिलने के कारण पूरे प्रदेश के शिक्षाकर्मियों को जो अल्प वेतन मे कार्य कर रहे है ऐसे कर्मचारियो को अपने घर मे चूल्हा जलाने से लेकर परिवार के लोगों के इलाज के लिए उधारी मांगने के लिए सेठ साहूकारों के सामने हाथ फैलाना पड़ता है । महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष उमा जाटव व  प्रवक्ता गंगा पासी ने कहा की प्रदेश के शिक्षाकर्मी वेतन समय पर नही मिलने के कारण स्कूल छोड़कर कर सड़क पर उतरकर धरना प्रदर्शन करने मजबूर हो जाते है । ब्लॉक अध्यक्ष पाटन जागेश्वर चन्द्राकर व धमधा अध्यक्ष संजय शर्मा ने कहा की लगातार मांग पत्र व चर्चा करने के बाद भी वेतन नही मिलने से हमे मजबूरी मे शाला बहिष्कार करने का निर्णय लेना पड़ता है ।  क्योकि वेतन समय पर नही मिलने के कारण समस्त शिक्षाकर्मियों को आर्थिक व मानसिक समस्याओ का सामना करना पड़ता है ।
प्रान्तीय उपाध्यक्ष अमित नामदेव,रूपेंद्र सिंह,ब्रिज नारायण मिश्रा,प्रकाश चन्द्र कांगे ने जानकारी दी की वेतन समस्या को देखते हुए प्रदेश अध्यक्ष विकास सिंह राजपूत ने 16 अप्रेल को पंचायत संचालक  से मुलाकात कर प्रदेश के शिक्षाकर्मियों के लिए जल्दी ही आबंटन राशि जारी करने की मांग की ।जिस पर संचालक  द्वारा संघ प्रतिनिधि मण्डल को आबंटन कापी उपलब्ध कराया  । आबंटन कापी उपलब्ध होने के बाद नवीन शिक्षाकर्मी संघ का जिला प्रतिनिधि मण्डल पन्नालाल साहू,सुनील स्वर्णकार,महेश ठाकरे ने जिला पंचायत सीईओ दुर्ग से मुलाकात कर 1 तारीख तक वेतन जिले के शिक्षाकर्मियों को भुगतान करने की मांग प्रमुखता से रखी ।  जिसके बाद जिला पंचायत सीईओ ने 17 अप्रेल को धमधा,पाटन व दुर्ग जनपद सीईओ व बीईओ को  पत्र जारी कर निर्देशित करते हुए जिले के शिक्षाकर्मियों को मार्च माह का वेतन तीन दिन के अंदर व आबंटन रहने पर प्रत्येक माह 1 तारीख तक वेतन भुगतान करने कहा । ब्लॉक सचिव प्रदीप राजपूत व मीडिया प्रभारी उमेश सोनी ने जानकारी दी  है कि  जिला पंचायत सीईओ के द्वारा निर्देश देने के बाद भी आज तक धमधा व पाटन जनपद के सीईओ व बीईओ के घोर लापरवाही के कारण आज दिनांक तक जिले मे कार्यरत शिक्षाकर्मियों को वेतन का भुगतान नही हुआ है।
लापरवाह अधिकारियो पर कार्यवाही हो–विकास सिंह राजपूत
नवीन शिक्षाकर्मी संघ प्रदेश अध्यक्ष व मोर्चा संचालक विकास सिंह राजपूत ने कहा है की पहले मुख्यमंत्री,पंचायत मंत्री फिर संचालक पंचायत के द्वारा दिये गये आदेश को अधिकारियो द्वारा आज तक अमल पर नही लाया गया ।  वहीँ अब दुर्ग जिला पंचायत सीईओ के द्वारा जारी आदेश को उनके ही अधीनस्थ कर्मचारी जनपद सीईओ व बीईओ द्वारा खुलेआम धज्जियां उड़ाकर रख दिया गया है   । 5 तारीख तक प्रदेश के शिक्षाकर्मियों को वेतन देने का निर्देश मुख्यमंत्री,पंचायत मंत्री व संचालक पंचायत ने दिया था  । वहीं तीन दिन के अंदर मार्च माह का वेतन देने का निर्देश सीईओ जिला पंचायत दुर्ग ने दिया है ।  लेकिन अधिकारियो द्वारा लगातार आदेश की अवहेलना किया जा रहा है  । इसलिए आज तक दुर्ग जिले के शिक्षाकर्मियों को  वेतन का भुगतान नही हुआ है । विकास सिंह सिंह राजपूत ने लापरवाह अधिकारियो पर कार्यवाही की मांग की  है ।  जब तक ऐसे लापरवाह व गैर जिम्मेदार अधिकारियो पर कड़ी कार्यवाही नही होगी तब तक शिक्षाकर्मियों को आबंटन रहने के बाद भी समय पर वेतन मिलना मुश्किल ही नही नामुमकिन है।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...