24 घंटे में सुलझ गयी हत्या की गुत्थी..हत्यारा प्रेमी बालाघाट में गिरफ्तार…कोटा में रहकर पढ़ाई करती थी रितु

बिलासपुर— कोटा में 23 मई को युवती की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। युवती तखतपुर थाना क्षेत्र की नगोई गांव की रहने वाली है। कोटा थाना क्षेत्र के फिरंगीपारा में किराए का मकान लेकर डॉ. सीवी रमन विश्वविद्यालय में बीएससी की पढ़ाई कर रही थी। रिपोर्ट लिखाने के मात्र 24 घंटे के अन्दर पुलिस कप्तान के निर्देश पर पुलिस ने आरोपी को बालाघाटा मध्यप्रदेश से धर दबोचा है। मामले का खुलासा शाम को एडिश्नल पुलिस अधीक्षक अर्चना झा ने पत्रकारों के सामने की है।

                                  कोटा के फिरंगीपारा में किराए का मकान लेकर सीवी रमन विश्वविद्यालय की छात्रा रीतु मानिकपुर की किसी ने 23 मई को हत्या कर दी। शाम को मामले की शिकायत की शिकायत मकान मालिक ने कोटा थाना में दर्ज कराई। अपनी रिपोर्ट में मकान मालिक चन्द्रिका गुप्ता ने बताया कि घटना के दिन अपने परिवार के साथ दोपहर 12बजे महामाया दर्शन करने रतनपुर गए थे। शाम को करीब सात बजे परिवार के साथ घर लौटा।

                       रिपोर्ट में चन्द्रिका प्रसाद गुप्ता ने बताया कि घर लौटने के बाद बहू प्रसाद लेकर रितु के कमरे में गयी। उसने देखा के रितु खाट पर अर्धनग्न अवस्था में मृत पड़ी है। पत्रकार वार्ता में एडिश्नल एसपी अर्चना झा ने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही चन्द्रिका गुप्ता घटना के ही दिन शाम को कोटा थाने में शिकायत की।अपराध पंजीबद्ध कर मामले की जानकारी पुलिस कप्तान आरिफ एच हुसैन को दी गयी। पुलिस कप्ता ने मामले को तत्काल संज्ञान में लेकर आरोपी को  धर पकड़ के लिए टीम का गठन किया।

                       अर्चना झा ने बताया कि शिकायत के बाद कोटा पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई के दौरान पाया कि मृतिका रितु के गले में दुपट्टा का गांठ बंधा हुआ था। दुपट्टा खींचकर रितु की हत्या की गयी है।

                एडिश्नल एसपी अर्चना झा,कोटा एसडीओपी विश्वदीपक त्रिपाठी और थाना प्रभारी के.के.सिहं की अगुवाई में पुलिस ने पुलिस कप्तान ने निर्देश पर कार्रवाई तेज कर दी। पतासाजी और मुखबिर की सूचना पर जानाकारी मिली किआरोपी का नाम अशोक बाहने है। अशोक बाहने भरवेली बालाघाट का रहने वाला है।

               पत्रकारों को अर्चना झा ने बताया कि आरोपी को साइबर सेल के सहयोग से पकड़ा गया। पुलिस ने आरोपी अशोक वाहने पिता ताराचंद वाहने उम्र तीस साल को ग्राम आवलाबाड़ी वार्ड क्रमांक 5 बौद्ध बिहार भरवेली थाना बालाघाट मध्यप्रदेश से गिरफ्तार किया गया।

                   अर्चना झा के अनुसार पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया है कि वह रितु से प्यार करता था। जब रितु मानिकपुरी ने शादी करने से इंकार कर दिया तो उसे मौत के घाट उतार दिया गया। आरोपी को न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *