लिपिकों ने दिया सरकार को अल्टीमेटम…रोहित ने किया..बेमुद्दत आंदोलन का एलान..कहा अब दिखाएंगे ताकत

बिलासपुर–राजधानी रायपुर में लिपिको ने संगठित हो कर कलेक्टरेट के सामने हल्ला बोला। सगठन की ताकत की नुमाइश भी की। छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ के प्रांतीय आह्वान पर लिपिकों ने सैकड़ो की संख्या में लिपिको ने कलेक्टर कार्यालय के सामने जमकर प्रदर्शन किया। सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की।

                     छत्तीसगढ़ लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ प्रदेश महामंत्री रोहित तिवारी और जिलाध्यक्ष आकाश त्रिपाठी की अगुवाई में 26 मई को लिपिकों ने तीन सूत्रीय मांग को लेकर प्रदर्शन किया। सम्भागीय मुख्यालय रायपुर में धमतरी ,गरियाबंद ,बलौदाबाजार ,महासमुंद और राजधानी के लिपिक वेतन विसंगति निराकरण समेत चार स्तरीय पदोन्नति वेतनमान की माँग को लेकर कलेक्टर कार्यालय में नारे बाजी की।

                       संघ के महामंत्री रोहित तिवारी और  जिलाध्यक्ष आकाश त्रिपाठी ने बताया की लिपिकों ने राजस्थान सरकार की तर्ज पर 1900 का 2400,और 2400 का 2800 वेतनमान किए जाने को लेकर 12 जनवरी 2018 को मंत्रालय का घेराव किया था। इसके अलावा लिपिकों ने चार स्तरीय पदोन्नति वेतनमान को लेकर भी आवाज बुलंद किया था। बावजूद इसके शासन ने लिपिकों की मांग को गंभीरता से नहीं लिया है।

               संघ महामंत्री रोहित तिवारी ने बताया कि प्रदेश भर के लिपिकों में गहरा आक्रोश है। आंदोलन का शंखनाद किया है। आंदोलन के द्वितीय चरण में लिपिकों ने सम्भागीय मुख्यालय राजधानी में उग्र प्रदर्शन किया। रोहित ने बताया कि आंदोलन का तृतीय चरण 27 जून को प्रदेश के सभी जिलों में होागा। 27 जून को सभी लिपिक सामुहिक अवकाश लेकर धरना प्रदर्शन में शामिल होंगे। 25 जुलाई तक शासन माँग पूरी नही पर प्रदेश के सभी लिपिक कर्मचारी 26 जुलाई 2018 से अनिश्चित कालीन आंदोलन में शामिल होंगे।

                  राजधानी स्थित कलेक्टर कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन के दौरान प्रमुख रुप से प्रदेश महामंत्री रोहित तिवारी, प्रांतीय सचिव गोपाल शर्मा,प्रांतीय प्रवक्ता जाहिद अहमद खान ,जे पी गोंड ,रमेश चंद्र साहू ,आकाश त्रिपाठी ,दीपक मिश्रा,निरंजन बरीहा, मुकेश वर्मा ,सुदामा ठाकुर, बी के शुक्ला ,संध्या मन्डावी ,मधु ठाकुर ,साधना थावरे ,समेत बड़ी संख्या मॆ लिपिक पदाधिकारी मौजूद थो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *