हरियर छत्तीसगढ़ महाअभियान:प्रदेश में इस साल साढ़े आठ करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य

रायपुर-राज्य में आगामी मानसून के दौरार हरियर छत्तीसगढ़ वृक्षारोपण महाअभियान के तहत आठ करोड़ 50 लाख पौधे लगाने का लक्ष्य है। इसके लिए तैयारी शुरू हो गई है। मुख्य सचिव श्री अजय सिंह ने आज यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में इस अभियान की तैयारियों की समीक्षा की। मुख्य सचिव ने बैठक में कहा कि वृक्षारोपण के लिए राज्य में स्थित औद्योगिक संस्थानों को उनके क्षेत्र के एक तिहाई क्षेत्र में वृक्षोरोपण करना अनिवार्य होगा। हरियर छत्तीसगढ़ में उत्कृष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों, संस्थाओं, सार्वजनिक क्षेत्र के उद्योगों और शासकीय विभागों को मुख्यमंत्री ट्राफी से सम्मानित किया जाएगा।मुख्य सचिव अजय सिंह ने हरियर छत्तीसगढ़ महाअभियान के प्रस्तावित वृक्षारोपण कार्यक्रम के संबंध में वन विभाग सहित अन्य विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि वे 15 जून से पहले अपने-अपने विभाग की कार्ययोजना बनाएं। उन्होंने पिछले वर्ष हुए वृक्षारोपण कार्यक्रम की विस्तृत समीक्षा भी की। मुख्य सचिव ने अधिकारियों से कहा कि वृक्षारोपण कार्यक्रम के दौरान रोपित किए जाने वाले पौधों में व्यावसायिक किस्म के पौधों के रोपण पर विशेष ध्यान दिया जाए।

उन्होंने मुनगा, साजा, नीम, माहूल पत्ते जैसे पौधों का रोपण अधिक से अधिक करने कहा है। इससे वनवासियों और किसानों को फायदा होगा। मुख्य सचिव ने कहा कि वन विभाग की नर्सरियों में राज्य की जलवायु के अनुकूल पौधे तैयार किए जाए इसका विशेष ध्यान रखा जाए। मुख्य सचिव ने कहा कि भोरमदेव और अचानकमार अभ्यारण को पर्यटकों के अनुकूल बनाएं जाए जिससे राज्य के पर्यटन को बढ़ावा मिले। यहां पर वन विभाग के विश्रामगृह आकर्षक बनाएं जाए। बैठक में अपर मुख्य सचिव वन सी.के. खेतान, सचिव अतुल शुक्ला, वन विकास निगम के प्रबंध संचालक एम.के. सिंह, मुख्य वन संरक्षक आर.के. सिंह सहित वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...