एसपी ने की विधि विधान से शस्त्र पूजा…समितियों को निर्देश..नशेड़ियों और अश्लील गाना बजाने वालों पर होगी कार्रवाई

बिलासपुर— पुलिस लाइन स्थित शस्त्रागार में बिलासपुर जिले के पुलिस मुखिया की अगुवाई में पुलिस शस्त्रागार में हथियारों का विधि विधान से पूजा पाठ किया गया। वैदिय मंत्रोच्चार और हवन के साथ परम्पराओं का निर्वहन पुलिस कप्तान आरिफ शेख और अन्य अधिकारियों ने किया।
             विजय दशमी पर्व पर पुलिस कप्तान आरिफ शेख की अगुवाई में विधि विधान से परम्परानुसार शस्त्र की पूजा की गयी। पुलिस लाइन स्थित शस्त्रागार में जमा शस्त्रों का वैदिक मंत्र के साथ आराधना की गयी। पंडित की मौजूदगी में शस्त्रों का पूजन किया गया। आरिफ शेख समेत पुलिस स्टाफ ने हवन कर शांति समृद्द की कामना की।
                पुलिस लाइन स्थित शस्त्रागार में शुक्रवार को विजयादशमी के उपलक्ष में आयोजित शस्त्र पूजन कार्यक्रम में जिले के सभी पुलिस के आलाधिकारी मौजूद थे। वरिष्ठ पुलिस कप्तान आरिफ एच. शेख ने शस्त्र पूजन विधि विधान किया। पूजन प्रक्रिया के बाद सभी अधिकारियों ने वरिष्ठ पुलिस कप्तान समेत उपस्थित सभी राजपत्रित अधिकारियों को शुभकामनाएं दी।
              पुलिस कप्तान ने कहा विजयदशमी का पर्व बुराई पर अच्छाई की जीत के रूप में मनया जाता है। शहर और जिले में लोग अमन शांति के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वहन करें। पुलिस का हमेशा यही प्रयास रहता है। पुलिस समाज का अभिन्न अंग है।समाजिक ताना बाना से जुड़े होने के कारण पुलिस का पहला कर्तव्य होता है कि लोग भाईचारे की भावना के साथ रहें। कहीं भी गलत काम हो उसकी सूचना दें। किसी को भी अधिकार नहीं है कि कानून को हाथ में लें। आज विधि विधान से शस्त्रों की पूजा की गयी है। इसके लिए सभी को शुभकामनाएं देता हूं।
                पूजा पाठ कार्यक्रम के दौरान वरिष्ठ पुलिस कप्तान समेत अधिकारियों ने शस्त्र पूजन के साथ वाहनों की भी पूजा की। इस दौरान एमटीओ वर्कशॉप के समस्त अधिकारी और कर्मचारी भी मौजूद थे।
दुर्गा विसर्जन व्यवस्था को लेकर बैठक
            शस्त्र पूजा के पहले पुलिस कप्तान के निर्देश पर बिलासागुड़ी में दुर्गा विसर्जन कार्यक्रम को लेकर पुलिस अधिकारियों और थानेदारों की जरूरी बैठक हुई। बैठक में शहर के लगभग 40 समितियों ने भाग लिया। दुर्गा विसर्जन के दौरान शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के लिए प्रत्येक समितियों को 10 स्वयंसेवक बनाने का निर्देश दिया गया। एडिश्नल एसपी अर्चना झा बताया कि समितियों को सख्त निर्देश दिया गया है कि दुर्गा विसर्जन प्रक्रिया के दौरान शराब या नशीली दवाओं का सेवन नही किया जाए। अश्लील गाना बजाए जाने पर कार्रवाई हो सकती है। यातायात व्यवस्था को कम से कम प्रभावित किया जाए। सड़क पर आम लोगों के लिए एक  तरफ आने जाने की सुविधा दी जाए। यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाकर रखने के लिए समितियों का सहयोग जरूरी है। अर्चना झा ने समिति को अपने कार्यकर्ताओं पर नियंत्रण रखने की भी हिदायत दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *