शैलेश पाण्डेय ने दाखिल किया नामांकन…अटल ने कहा हमारा विरोध जायज था…अब जीत के लिए होगा काम…जनता लेगी बदला

बिलासपुर– नामांकन तारीख के अंतिम दिन शैलेश पाण्डेय ने नामांकन दाखिल किया। प्रस्तावक अटल श्रीवास्तव बने। इस दौरान कांग्रेस नेताओं के बीच जबरदस्त उत्साह देखने को मिला। लोगों को समझ में नहीं आया कि एक दिन पहले तोड़फोड़ टिकट का विरोध कर रहे कांग्रेसी शांत कैसे हो गए। नामांकन दाखिल के दौरान अटल श्रीवास्तव और शैलेश पाण्डेय की पत्नी विशेष रूप से मौजूद थीं। शैलेश पाण्डेय ने नामांकन प्रक्रिया का पालन कर जिला निर्वाचन अधिकारी पी.दयानन्द को फार्म दिया। इसके बाद अटल और शैलेश पत्रकारों से मुखातिब हुए।

 हमारा विरोध जायज..पहले विपक्ष को हराना जरूरी..

                    पत्रकारों से बातचीत के दौरान अटल श्रीवास्तव ने कहा कि कांग्रेस बहुत परिवार है। यहां कई विचारधारा के लोग हैं। एक दिन पहले किया गया विरोध जायज था। हमने अपनी भावनाओं को जाहिर किया। यह जरूरी भी था। सवाल के जवाब में अटल ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पैराशूट को टिकट नहीं देने की बात कही थी। हमने जैसा समझा..वही किया। पांच साल तक कार्यकर्ताओं ने काम किया। शायद कार्यकर्ता अपनी भावनाओं को नियंत्रित नहीं कर पाए। एक दिन पहले विरोध जाहिर किया।

                      अटल ने कहा कि लड़ाई बीस साल बनाम बीस दिन की है। जनता स्थानीय मंत्री के खिलाफ ना केवल हराना है..बल्कि सरकार भी बनानी है। टिकट की दौड़ तक हमने एक दूसरे के खिलाफ दौड़ लगाई। अब टिकट का बंटवारा हो चुका है। हम एक होकर भाजपा और अमर अग्रवाल के खिलाफ लड़ेंगे। जनता परेशान हो चुकी है। हम सातो विधानसभा से जीत हासिल करेंगे।

            अटल ने बताया कि प्रदर्शन करने वालों के खिलाफ किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं होगी। सबको समझाया गया है। सब लोग अब चुनाव प्रचार अभियान में सक्रिय हो गए हैं। अब मिलकर लड़ाई को अंजाम तक पहुंचाया जाएगा।

सत्ता के नेता को जनता सिखाएगी सबक

                      नामांकन दाखिल के बाद पत्रकारों से बातचीत में शैलेश पाण्डेय ने कहा कि हम सब एक हैं। बड़े परिवार में उठा पटक होती है। कांग्रेस परिवार के सदस्यों ने अपनी भावनाओं को एक दिन पहले जाहिर कर बात खत्म दिया है। अब हम मिलकर सिवरेज,नसबंदी,अंखफोड़वा,भदौरा काण्ड का बदला लेंगे। गरीबों के आशियाने को उजाड़ने वाले के खिलाफ अभियान चलाएंगे। आज से हमारी लड़ाई शुरू हो गयी है। स्थानीय मंत्री निशाना साधते हुए शैलेश पाण्डेय ने बताया कि जनता सबक सिखाने के लिए तैयार है। बिलासपुर से ना केवल कांग्रेस पार्टी की होगी बल्कि सरकार भी बनेगी। पाण्डेय ने कहा कि खुला चैलेन्ज करता हूं कि अब भाजपा के नेता कांग्रेस के सिपाहियों से बहस करें। उन्हें चुन चुनकर जवाब दिया जाएगा। सिवरेज और नसबन्दी काण्ड का बदला लिया जाएगा।

               शैलेश पाण्डेय ने कहा कि जनता में परिवर्तन की आग सिलग रही है। बीस साल का हिसाब बीस दिन में कांग्रेस के सिपाही और शहर की जनता लेने को तैयार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *