VIDEO:चुनावी सफरःलोरमी में अभी से नजर आ रहा त्रिकोणीय मुकाबला…तीनों पार्टियों की प्रतिष्ठा दाँव पर

(गिरिजेय)छत्तीसगढ़ में मुंगेली जिले की दो विधानसभा सीटों में से एक लोरमी की सीट सामान्य है। यहां का चुनावी मुकाबला काफी दिलचस्प माना जा रहा है। इसकी सबसे बड़ी वजह यही है कि लोरमी से पहले कई बार प्रतिनिधित्व कर चुके धरमजीत  सिंह इस बार छत्तसीगढ़ जनता कांग्रेस ( जे. ) से  उम्मीदवार हैं। बीजेपी ने अपने मौजूदा विधायक तोखन साहू को इस बार फिर चुनाव मैदान में उतारा है। जबकि कांग्रेस ने नए चेहरे के रूप में शत्रुहन चँद्राकर को अपना उम्मीदवार बनाया है। करीब 1 लाख 97 हजार से अधिक मतदाता इनकी किस्मत का फैसला करेंगे।

वैसे प्रदेश के दूसरे कई विधानसभा क्षेत्रों की तरह लोरमी में भी अभी चुनावी माहौल गरमाया नहीं है। लेकिन चुनीावी सरगरमी धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है। चुनावी सफर में लोरमी पहुंचने पर बीजेपी कार्यालय के सामने डीजे की धुन पर चुनाव प्रचार का नजारा देखने को मिला। कार्यालय में चहल-पहल भी नजार आई । इस दौरान इलाके के कुछ  नौजवान बीजेपी में शामिल हुए । उनका स्वागत पार्टी के उम्मीदवार तोखन साहू ने किया और जिंदाबाद के नारे लगे।

जब तोखन साहू से बात हुई तो उन्होने कहा कि बीजेपी के कार्यकर्ता पूरी एकजुटता के साथ बूथ स्तर पर काम में  लग गए हैं। एक सवाल के जवाब में उन्होने कहा कि वे मुकाबले में दोने ही पार्टियों को एकसाथ देख रहे हैं। उन्होने विकास को बीजेपी का सबसे बड़ा मुद्दा बताया और गिनाया कि पार्टी की सरकार ने पिछले पाँच साल में लोरमी इलाके में बिजली,पानी,सड़क, शिक्षा-स्वास्थ्य को लेकर कितने काम कराए हैं। हालांकि तोखन साहू ने इस सवाल का सीधा जवाब नहीं दिया कि लोरमी में कांग्रेस के बिखराव का कितना फायदा बीजेपी को होगा। लेकिन उन्होने  इस बार भी अपनी जीत का पक्का भरोसा जताया।
उधर लोरमी के मुंगेली रोड पर कांग्रेस के चुनावी दफ्तर मे भी चहल-पहल  नजर आई। खासकर गांवों से आए हुए लोग नजर आए। दौरे पर होने की वजह से कांग्रेस उम्मीदवार शत्रुहन चँद्राकर से बात तो नहीं हो सकी । लेकिन  वहां मौजूद कार्यकर्ताओँ  ने बताया कि इस इलाकें में कांग्रेस का अपना पुराना जनाधार है। लोग भारतीय जनता पार्टी की सरकार से काफी नाराज हैं। इसका पूरा लाभ कांग्रेस को मिलेगा। शुरूआती दौर में कांग्रेस में बागी उम्मीदवारों की वजह से दिक्कत पैदा हुई थी। जिसमें खास तौर से लोरमी ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के सक्रिय अध्यक्ष रहे सागर सिंह की ओर से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में पर्चा दाखिल करने के बाद कांग्रेस के लिए कठिन परिस्थितियां नजर आ रहीं थी। लेकिन नामांकन वापसी के आखिरी दौर तक उन्हे मना लिया गया । जिससे कांग्रेस शिविर में उत्साह बढ़ा  हुआ नजर आ रहा है।

दूसरी तरफ इस चुनाव में राजनैतिक प्रेक्षकों के केन्द्र बिन्दु बने छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ( जे. ) के उम्मीदवार धरमजीत सिंह का कहना है कि पिछले पन्द्रह साल से चल रही बीजेपी सरकार सभी मोर्चों  पर असफल रही है। समाज के सभी तबके के लोग निराश हैं। छत्तीसगढ़ को इस स्थिति से उबारने के लिए ही अजीत जोगी ने मजबूत क्षेत्रीय विकल्प के रूप में नई पार्टी का गठन किया है। पार्टी आमजन से जुड़े मुद्दों को लेकर जनता के बीच है। उन्होने बताया कि उनकी पार्टी की सरकार आई तो किसानों को 2,500 रपए धान का समर्थन मूल्य मिलेगा। 5 हार्स पॉवर तक के पंप पर  किसानों को बिजली मुफ्त मिलेगी । औऱ भी बेरोजगारों, महिलाओँ निराश्रितों आदि के लिए भी अच्छी योजनाओँ की बात उन्होने कही। धरमजीत सिंह का यह भी कहना है कि बीजेपी और कांग्रेस के उम्मीदवार सभी पोलिंग बूथ स्तर तक नहीं पहुंचे हैं। जबकि जनता कांग्रेस की तैयारी पूरी हो चुकी है।

कुलमिलाकर लोरमी में चुनावी माहौल धीरे-धीरे गरमाता जा रहा है। यहां मुकाबला अभी से ही तीन कोने वाला नजर आ रहा है। जिस पर सभी पार्टियों और प्रेक्षकों की नजर लगी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *