बलौदा बाजार में स्ट्रांग रूम की बाउंड्री वॉल तोड़ कर रातों रात बना दी गई,जोगी कांग्रेस का दावा-वीडियो है हमारे पास

बिलासपुर।जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रदेश प्रवक्ता व समन्वयक  ने एक बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि, कल रात बलौदाबाजार में स्ट्रांग रूम के पीछे के हिस्से में स्थित दरवाज़े पर भी कई संदिग्धों की आवा जाही देखी गई। जिसका विडियो जनता कांग्रेस जे के पास है उसी रात को उस स्ट्रांग रूम की बाउंड्री वॉल तोड़ी गई और रातों रात बनवा भी दी गई। इस गतिविधियों से साफ हो गया है एसडीएम और कलेक्टर की मिली-भगत से उस स्ट्रांग रूम में हैकरों को प्रवेश कराया गया, ताकि ईवीएम मशीनों से छेड़छाड़  कर चुनाव परिणाम को प्रभावित किया जा सके।

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जे के संस्थापक अध्यक्ष और छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी ने मुख्य चुनाव आयोग से मांग की है कि इन दोनों (कलेक्टर और एसडीएम) को तत्काल उनके पदों से हटाया जाए क्योंकि बलौदाबाजार के एसडीएम, तीरथ राज अग्रवाल, विधानसभा अध्यक्ष और भाजपा प्रत्याशी गौरीशंकर अग्रवाल के रिश्तेदार हैं और मतदान के बाद अपने अधिकार का दुरुपयोग कर के ईवीएम मशीनों को टैम्पर करने की बड़ी साज़िश रच रहे हैं।

साथ ही चुनाव आयोग को प्रदेश के सभी स्ट्रांग रूम के चारों ओर सीसी टीवी कैमरे लगाने का भी आदेश देने की मांग किया है ।

प्रदेश प्रवक्ता मनीशंकर पान्डेय  ने बताया कि स्ट्रांग रूम के सामने के दरवाजे  पर सीआईएसएफ के जवान तैनात हैं और पीछे से इस प्रकार की कायराना हरकतों को अंजाम देने की कोशिश जारी है। इस विषय में त्वरित कार्रवाई करने के लिए उनकी पार्टी की ओर से चुनाव आयोग को शिकायत भी की जा रही है ।

श्री पान्डेय ने आगे यह भी बताया है कि पार्टी सुप्रीमो अजीत जोगी ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी को पता है कि वह पूरी तरह से छत्तीसगढ़ का 2018का विधानसभा चुनाव  हार चुकी है और अब आखिरी हथकंडे के तौर पर ईवीएम मशीनों को टैम्पर करने और चुनाव को अपने बल पूर्वक प्रभावित करने का प्रयास कर रही है, जो कि बहुत ही ओछी और  घृणित कायराना हरकत है और संविधान के खिलाफ है  इसलिए चुनाव आयोग को उपरोक्त विषय पर सख्त कदम उठाने की जरूरत है।

इस प्रकार के हरकतों को जनता कांग्रेस जे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेगी अगर चुनाव आयोग सक्त कार्यवाही जल्द नहीं करती है तो जनता कांग्रेस जे इसका मुंह तोड जवाब जल्द जनता के माध्यम से देगी उस वक्त कोई भी अप्रिय घंटना घटीत होगी तो उसकी संम्पूण जवाबदेही चुनाव आयोग की होगी । उक्त बातें प्रदेश प्रवक्ता मनीशंकर पान्डेय ने एक प्रेस रिलीज कर मिडिया को जानकारी दी है।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...