पुलिस को बड़ी सफलता…लाखों की चोरी का मामला…2 नाबालिग समेत 4 आरोपी पकड़ाए..ढाबा का वेटर गिरफ्तार

#

बिलासपुर— हरियाणा निवासी हार्वस्टिंग का करने वाले के घर से करीब पांच लाख की चोरी मामले का खुलासा पुलिस ने की है। बिलासागुड़ी में चोरी का खुलासा करते हुए एडिश्नल एसपी विजय अग्रवाल ने बताया कि मुख्य आरोपी के साथ चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपियों के पास से खर्च हुए रूपयों के अलावा मोबाइल,चार्जर और मोटरसायकल बरामद कर लिया गया है। मामले की छानबीन कोनी थाने में रिपोर्ट दर्ज होने के  बाद पुलिस कप्तान आरिफ शेख के निर्देश में टीम ने की है।

  बिलासागुड़ी में एडिश्नल एसपी विजय ्ग्रवाल ने करीब 4 लाख 84 हजार रूपयों की चोरी का खुलासा किया है। एडिश्नल एसपी ने बताया कि एक दिसम्बर को कोनी थाना में सुखवंत सिंह पिता बलदेव सिंह चोरी की शिकायत की। सुखवंत ने  बताया कि वह सीवन थाना जिला कैथल हरियाणा का रहने वाला है। बिलासपुर में जगह जगह ​किराए पर हार्वेस्टिंग का काम करता है।  मोपका बाईपास सीजी—10 ढ़ाबा के पास बिरकोना के राजेश श्रीवास के घर में किराए से रहता है। कुछ दिनों पहले पुराना हार्वेस्टर नवागांव सीपत निवासी पीताम्बर कुर्मी को 15 लाख रूपयें में बेचा। नगद चार लाख चौरासी हजार रूपये एक बैग में किराये के मकान में रखा था।

              एक अक्टूबर दोपहर में जीप बनवाने घर से बाहर गया था। शाम को जब घर लौट कर देखा कि पीछे की ग्रिल और जाली को तोड़कर किसी ने नगदी 4,84,000 रूपयें भरे बैग को पार कर दिया है। मोबाईल और पावर बैंक भी गायब है। सुखवंत सिंह की शिकायत दर्ज होने के बाद मामले की जानकारी वरिष्ठ पुलिस कप्तान तक पहुंची।
                 वरिष्ठ पुलिस कप्तान आरिफ एच.शेख ने मामले को गंभीरता से लेते आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ने का निर्देश दिया। अतिरिक्त पुलिस अ​घीक्षक विजय अग्रवाल की अगुवाई में उप पुलिस अघीक्षक क्राईम प्रवीण चंद्र राय, नगर पुलिस अघीक्षक कोतवाली विश्व दीपक त्रिपाठी की टीम ने घटना स्थल का मुआयना किया । प्रार्थी के साथ काम करने वालों के अलावा आस पास के आदतन अपराधियों से पूछताछ की गयी। लेकिन पुलिस को कुछ हाथ नहीं लगा।

    पकड़ में आयाा ढाबा का वेटर

विजय अग्रवाल ने बताया कि इस बीच मुखबीर से जानकारी मिली कि ग्राम बैमा निवासी बनवारी उर्फ कृष्ण चंद्रयादव घटना के दो दिन पहले नाबालिग साथी के साथ गांजा पीते मौके पर देखा गया था। पुलिस को जानकारी मिली कि कृष्ण चन्द्र  सी.जी. 10 ढ़ाबा में वेटर का काम करता है। घटना दिनांक के बाद से लगातार मंहगी शराब पी रहा है। अनाप—शनाप रूपए भी खर्च कर रहा है। पुलिस ने बनवारी उर्फ कृष्ण चंद्र यादव से हिरासत में लेकर पूछताछ की। पहले तो कृष्णचन्द्र ने गुमराह किया। लेकिन सख्ती के बाद  टूट गया।

               कृष्ण चन्द्र ने बताया कि इस समय कही काम  नहीं कर रहा है। हॉटल खोलना चाहता है। आर्थिक तंगी के कारण होटल नही खोल पा रहा था। इस बीच वह सी.जी. 10 ढ़ाबा में आता जाता था। इसी बीच गांजा पीने के दौरान साथियोंं ने बताया कि हार्वेस्टर चलाने वाला हरियाणा का व्यवसायी अपने मकान में  पांच लाख रूपये छिपा कर रखा है। इसके बाद मौका पाते ही शैलेन्द्र रजक और दो नाबालिग साथियों के साथ चोरी की घटना को अंंजाम दिया। सूना मकान पाकर पीछे की खिड़की को तोड़ नगदी समेत मोाइल और चार्जर को पार कर दिया।

        विजय अग्रवाल ने बताया कि बनवारी से पूछताछ के बाद साथियों को धर दबोचा गया। अलग अलग पूछताछ के बाद आरोपियों की निशानदेही पर नगाई और हरदीडीह के बीच जंगल में छिपाकर रखी गयी। चोरी की  मोबाइल और पावर बैंक को जब्त किया गया। आरोपियों के ठिकाने से कुल 4,50,000 रूपयों की बरामदगी हुई। घटना ​को अंजाम देते समय उपयोग की गयी मोटर सायकल को जब्त किया गया है।
आरोपियों के नाम और पता-ठिकाना
     एडिश्नल एसपी ने बताया कि चारो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तार आरोपियों का सरगना बनवारी उर्फ कृष्ण चंद्र यादव उम्र 21 साल  स्कूल चौक ग्राम बैमा का रहने वाला है। अन्य आरोपी का नाम शैलेन्द्र रजक उर्फ मोन्टू उम्र 22 साल है। शैलेन्द्न चौहान पारा ग्राम नगोई  का निवासी है। इसके अलावा दो नाबालिगों को भी पकड़ा गया है।
       प्रकरण को सुलझाने में क्राईम ब्रांच के सहयानक उप निरीक्षक हेमंत आदित्य, प्रधान आरक्षक अशोक चौरसिया, अशोक मिश्रा, अनिल साहू, आरक्षक वीरेन्द्र साहू, विकास यादव, कमल साहू, बोधूराम कुम्हार, अनिवाश पाण्डेय की विशेष भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *