पूर्व शिक्षाकर्मी की हुई जीत..और पूर्व कलेक्टर की हार,आंदोलन के दौरान रायपुर जेल में हुई थी दोनों की मुलाकात

बिलासपुर।चन्द्रदेव प्रसाद राय वर्ग तीन के सहायक शिक्षक से शिक्षाकर्मी नेता से बने और कांग्रेस की टिकिट से बिलाईगढ़ से विधानसभा का चुनाव लड़े और पाँच हजार के अंतर से जीत गए।चन्द्रदेव प्रसाद राय ने जांजगीर जिले के ठाकुर छेदी लाल शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय से पढ़ाई पूरी करने के बाद 16 साल तक शिक्षाकर्मी रहे। प्रदेश के शिक्षा कर्मी आंदोलन में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई एक वर्ष पूर्व शिक्षक मोर्चे के आंदोलन में मोर्चे ने जब शून्य में हड़ताल वापस ली थी उसमें तत्कालीन कलेक्टर ओ पी चौधरी हड़ताल वापस लेने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

और वर्तमान में ओ पी चौधरी खरसिया से भाजपा की टिकिट में चुनाव लड़े और अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी उमेश पटेल से हार गए है।

यह भी पढे-बिलासपुर जिले मे बीजेपी को मिली तीन सीट,कॉंग्रेस और जोगी कॉंग्रेस दो-दो की बराबरी पर,देखिये किसे मिले कितने वोट

शिक्षक मोर्चे में आंदोलन के दौरान रायपुर जेल में चन्द्रदेव राय और ओपी चौधरी की मुलाकत के दौरान किसी ने नही सोचा था कि भविष्य में दोनों विधानसभा का चुनाव लडेंगे।कांग्रेस की टिकिट पर बिलाईगढ़ विधानसभा से चुनाव लड़ने वाले चन्द्रदेव राय ने भावुक होकर कहा कि प्रदेश के एक लाख अस्सी हजार शिक्षा कर्मीयो के दुवाओ का असर है जो मुझे सोनाखान और गिरौदपुरी से घिरे बिलाईगढ़ विधानसभा क्षेत्र जो सन्त और महात्माओं की तपो भूमि है।

यह भी पढे-Chhattisagrh-जोगी फैक्टर:कैसे हुआ भाजपा को धोखा,अजीत जोगी के बिना जीत…कॉंग्रेसियों ने दिल्ली को भी दिया एक मेसेज

इस पवित्र धरती की सेवा करने का एक अवसर मिला है। और कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी,पी एल पुनिया,भूपेश बघेल,टी एस सिंहदेव,चरणदास महंत सहित तमाम वरिष्ठ नेताओं का आभारी हूँ जो मुझे अवसर दिया है।

बिलाईगढ़ से कांग्रेस प्रत्याशी चंद्रदेव राय को 71936 वोट मिले,बसपा प्रत्याशी श्याम कुमार टंडन को 62089 वोट मिले,बीजेपी प्रत्याशी सनम जांगड़े को 40623 वोट मिले है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *