पार्षद का आरोप…आबकारी का दबंग दारोगा चलवा रहा चखना दुकान…मारपीट कर छीन लिया मोबाइल

बिलासपुर— बिल्हा वार्ड क्रमांक 12 के पार्षद ने आबकारी दारोगा पर मारपीट करने और अवैध रूप से चखना दुकान संचालित करने का आरोप लगाया है। कलेक्टर और आबकारी उपायुक्त कार्यालय पहुंचकर पार्षद सद्दाम ने बताया कि बिल्हा आबकारी दुकान के पास नीलेश जैन के संरक्षण में अवैध चखना सेन्टर चलाया जा रहा है। विरोध किए जाने पर विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई कर फंसाया जा रहा है। सद्दाम ने जिला प्रशासन से आबकारी दारोगा के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

            पार्षद सद्दाम ने लिखित शिकायत कर जिला प्रशासन को बताया कि पिछले चार पांच दिनों से बिल्हा क्षेत्र स्थित अंग्रेजी शराब दुकान से चंद कदम दूर आबकारी दारोगा की शहर पर चखना सेन्टर चलाया जा रहा है। जिसके चलते क्षेत्र का माहौल लगातार बिगड़ रहा है। जबकि पास में लड़कियां स्कूल में पढ़ने जाती हैं। दुकान में नशेड़ियों का जमावड़ा रहता है।

               सद्दाम हुसैन ने कहा कि मामले में जब चखना सेन्टर हटाए जाने का मौखिक रूप से निवेदन किया तो आबकारी दारोगा ने आरक्षकों के साथ मिलकर ना केवल मारपीट की। गाली गलौच कर मोबाइल भी छीन लिया। निलेश जैन ने जबरदस्ती पकड़कर अपनी गाड़ी में बैठाया। धमकी देकर कहा कि वह प्रशासन की ताकत को जानता नहीं है। यदि मुंह बंद नहीं किया तो जेल की हवा खिलाउंगा।

                                 सद्दाम के अनुसार नियमानुसार पचास मीटर की दूरी पर चखना सेन्टर चलाना गैर कानूनी है। बावजूद इसके उपरी कमाई की लालच में निलेश जैन चखना सेन्टर चला रहे हैं। विरोध करने पर प्रशासन की ताकत की धमकी देते हैं। इसके चलते स्थानीय लोगों में आक्रोश है। आबकारी निरीक्षक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। साथ ही शराब को भी मौके से हटाया जाए। क्योंकि दुकान से चन्द कदम दूर कन्या स्कूल संचालित होता है। शराबियों के चलते बच्चियों को अश्लील गालियों का सामना करना पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *