इंतजामिया कमेटी को उर्स की जिम्मेदारी…हाईकोर्ट से मिला स्टे…समाज के लोगों ने कहा 7 सदस्यीय कमेटी का करेंगे समर्थन

बिलासपुर—हाईकोर्ट बिलासपुर ने इंतेजामिया कमेटी के अध्यक्ष हाजी सैयद अकबर बक्शी समर्थित 7 सदस्यों की टीम को उर्स कराने की जिम्मेदारी दी है। मामले में हाईकोर्ट ने वक्फ बोर्ड के सीईओ जहीरूद्दीन के आदेश को निरस्त कर दिया है। हाईकोर्ट के आदेश पर हाजी सैयद अकबर बक्शी ने खुशी जाहिर की है।
          मालूम हो कि लुतरा स्थित शहंशाहे छत्तीसगढ़ सैयद इंसान अली रहमतुल्ला अलेह के दरगाह में सालाना उर्स कराने के लिए टयुबनल कोर्ट ने वक्फ बोर्ड को 7 सदस्य कमेटी बनाकर उर्स कराने की जिम्मेदारी दिया था। कोर्ट के निर्देशों का पालन करते हुए वक्फ बोर्ड चेयरमैन सलीम अशरफी ने 7 सदस्य कमेटी का गठन कर उर्स की तैयारी को लेकर गंभीरता के साथ शुरू कर दिया है। सात सदस्यीय कमेटी 24 दिसंबर से 29 दिसंबर तक उर्स के सारे कार्यों को अंजाम देगी।
                इस बीच खादिमान मुतवल्ली पुरानी कमेटी के सदस्यों ने 20 दिसम्बर को वक्फ बोर्ड सीईओ के माध्यम से लूतरा शरीफ में उर्स कराने वक्फ बोर्ड चेयरमैन के आदेश को निरस्त करवा दिया। सीईओ ने दबाव बनाते हुए 7 नये सदस्यों की टीम तैयार कर उर्स कराने का आदेश दिया।
                    वक्फ बोर्ड सीईओ के आदेश के खिलाफ 19 तारीख को बनाई गई कमेटी के मेंबरों ने हाईकोर्ट में अपील की। स्पेशल कोर्ट में सुनवाई के दौरान न्यायाधीश राजेंद्र चंद्र सिंह सामंत ने वक्फ बोर्ड के सीईओ के आदेश को स्टे देते हुए वक्फ बोर्ड के चेयरमैन हाजी सलीम असरफी की 7 सदस्य टीम को उर्स कराने की जिम्मेदारी दी है।
                            हाई कोर्ट से स्टे मिलने के बाद समाज के लोगों में उत्साह का माहौल है। लोगों ने नई इंतेजामिया कमेटी की जीत के लिए अध्यक्ष को शुभकामनाएं दी है। मुस्लिम समाज के लोगों ने हाजी अकबर बक्शी के साथ मिलकर ऊर्स कराने के दौरान कंंधे से कंधा मिलाकर चलने का आश्वासन दिया है।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...