Kanker-तीन किलोमीटर पहाड़ी काटकर बना रास्ता,कलेक्टर ने पहुँचकर ग्रामीणो से की मुलाकात

♦पहलीबार कलेक्टर को अपने गांव में देखकर गदगद हुए ग्रामीण
कांकेर।
जिले के दुर्गम पहाड़ी क्षेत्र में बसे गांव जिवलामारी पहंुचकर कलेक्टर रानू साहू ने लोगों की समस्या सुनीं तथा उनके निराकरण का पहल किया। कांकेर विकासखण्ड के पहाड़ी में बसे गांव जिवलामारी में पहंुचने के लिए पुलिस अधीक्षक के.एल. ध्रुव के मार्गदर्शन में विगत दिनों 3 किलोमीटर पहाड़ी को काट कर रास्ता बनाया गया था, जहॉ आज जिले के मुखिया कलेक्टर दलबल के साथ पहंॅुचे। उन्होंने वहॉ के प्राथमिक विद्यालक के विद्यार्थियों से बातचीत की,कक्षा 5वीं के बच्चों ने 20 तक का पहाड़ा धाराप्रवाह पढ़कर सुनाया, जिसे सुनकर कलेक्टर गदगद हो गई तथा विद्यालय के शिक्षकों को बधाई दिया। विद्यालय के शिक्षक अरविंद कुरेटी ने बताया कि वह प्रतिदिन 3 किलोमीटर पैदलचलकरस्कूल पहंुचता है। कलेक्टर ने विद्यालय के सभी छात्र छात्राओं को स्वेटर और बुर्जुंगों और महिलाओं को शाल भेंट किया। ग्रामीणों से चर्चा कर कलेक्टर ने उनकी समस्या सुनीं, इस गांव में 17 परिवार बसते हैं, गांव में 6 हैण्डपंप है, जिनमें से 2 हैण्डपंप का पानी पीने योग्य है, शेष हैण्डपंपों का पानी आयरन युक्त होने के कारण लोकस्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधिकारी को भू-जल सर्वे कर आयरनयुक्त पानी का निदान ढूढने के लिए कलेक्टर ने निर्देशित किया। सीजीवालडॉटकॉम के whatsapp ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करे

ग्रामीणजन अपने निस्तार के लिए तालाब एवं झरिया का पानी उपयोग में लाने की जानकारी कलेक्टर को दिया, जिस पर वे स्वयं 05 किलोमीटर पैदलचलकर वहां तक पहंुची। ग्रामीणों के मांग पर कलेक्टर रानू साहू ने मनरेगा के अंतर्गत भूमि समतलीकरण तथा तालाब जाने के रास्ते में पुलिया निर्माण का प्रस्ताव भेजने के लिए ग्राम पंचायत के सचिव को निर्देशित किया।

तहसीलदार कांकेर को वन अधिकार मान्यता पत्र के लिए वन भूमि पर काबिज पात्र परिवारों का सर्वे कर कृषि प्रयोजन हेतु वनअधिकार पट्टा प्रदान करने के लिए सर्वे करने के निर्देश दिए। अपने गांव में पहलीबार कलेक्टर के साथ जिले के आला अफसरो को देखकर ग्रामीणजन गदगद हो गये। कलेक्टर श्रमती रानू साहू के साथ निर्वाचन प्रेक्षक (व्यय) श्री राजेश चन्द्रा, अपर कलेक्टर एम.आर चेलक, संयुक्त कलेक्टर सी.एल मार्कण्डेय, तहसीलदार टी.के साहू, सहायक खनीज अधिकारी सनत साहू, नायब तहसीलदार केशकर भी जिवलामारी पहंुचे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *