वाणिज्यिक कर मंत्री टी.एस. सिंहदेव से चैम्बर ऑफ कामर्स के प्रतिनिधि मंडल ने की मुलाकात,इन मुद्दो पर हुई चर्चा

रायपुर।वाणिज्यिक कर मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने कहा है कि प्रदेश में उद्योग एवं व्यापार को बढ़ावा देने नयी सरकार सतत रूप से प्रयास कर रही है। जनघोषणा पत्र में किए गए वायदों के अनुसार राज्य में व्यापार ,वाणिज्य और उद्योगों के लिए अनुकूल वातावरण तैयार किया जाएगा। श्री सिंहदेव संभागीय वाणिज्यिक कर कार्यालय रायपुर के सभाकक्ष में छत्तीसगढ़ चैम्बर आफ कामर्स के पदाधिकारियों से सौजन्य मुलाकात कर चर्चा कर रहे थे। सिंहदेव ने व्यापारिक संगठनों से चर्चा में प्रदेश में वस्तुओं की मांग के अनुसार उद्योग और व्यवसाय का विस्तार करने का सुझाव दिया जिससे रोजगार में वृद्धि के साथ-साथ प्रदेश के राजस्व बढ़ोतरी होगी।  राजस्व बढ़ने से शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में विकास कार्य तेजी से किए जा सकेंगे। उन्होंने हाल में ही नई दिल्ली में आयोजित गुड्स एण्ड सर्विस टेक्स (जीएसटी) काउंसिल की बैठक में लिए गए निर्णयों के संबंध में भी विस्तार से जानकारी दी।सीजीवालडॉटकॉम के whatsapp ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करे

उन्होंने बताया कि व्यावसायिक सामग्रियों के लिए ई-वे बिल की अनिवार्यता समाप्त करने, जीएसटी में पंजीयन हेतु वार्षिक आय 20 लाख रूपए से बढ़ाने का प्रस्ताव केन्द्र शासन को भेजा गया है। चेम्बर आफ कामर्स के पदाधिकारियों ने इस निर्णय का स्वागत किया।

 सिंहदेव से व्यापारिक संगठनों के साथ हुई मुलाकात में रियल स्टेट में लगने वाले टैक्स सहित टैक्सों को युक्तियुक्तकरण किए जाने पर भी चर्चा की गई। उन्होंने कहा कि चेम्बर आफ कामर्स के पदाधिकारियों के जरिए मिले सुझावों पर विचार किया जाएगा। उन्होंने व्यवसायिक संगठनों को सात दिन के भीतर सुझाव देने कहा, ताकि प्रस्ताव तैयार कर केन्द्र शासन की ओर भेजा जा सके। छत्तीसगढ़ चेम्बर आफ कामर्स के अध्यक्ष जीतेन्द्र बरलोटा सहित विभिन्न जिलों से आए पदाधिकारियों ने विभिन्न व्यापारिक मुददों पर सुझाव दिए। इस अवसर पर वाणिज्य कर की विशेष सचिव संगीता पी. सहित अनेक वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *