जलसंसधान मंत्री से मिले कांग्रेसी…रविन्द्र चौबे ने कहा..किसानोंं को मिलेगा न्याय…खेत तक पहुंचाएंगे पानी

बिलासपुर—चांपी दुलहरा सिंचाई परियोजना के माध्यम से बेलतरा के दर्जन भर गांवों की सिंचाई व्यवस्था को लेकर रायपुर में किसान नेता अजय सिंह और जिला कांग्रेस महामंत्री अनिल सिंह चौहान ने जल संसाधन मंत्री से मुलाकात की। मंत्रालय में मुलाकात के दौरान कांग्रेस नेताओं ने जलसंसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे को बताया कि पानी की समुचित व्यवस्था नहीं होने से बेलतरा क्षेत्र के किसानों की हालत दयनीय है। मांग पत्र लेते हुए रविन्द्र चौबे ने यथाशीघ्र निराकरण का आश्वासन दिया। संबंधित अधिकारियों को समुचित दिशा निर्देश देते हुए योजना को प्रारंभ करने के निर्देश दिए।
                     जलसंसाधन मंत्री से मुलाकात कर दोनों कांग्रेस नेताओं ने बताया कि पेण्ड्रा डिवीजन के चांपी जलाशय से बेलतरा विधानसभा के दुलहरा तालाब तक चांपी दुलहरा परियोजना से लगभग दर्जन भर गांवों के सैकड़ों किसानों को सिंचाई का लाभ मिलेगा। लेकिन कुछ साल पहले बनी करोड़ों की लागत की योजना अभी तक सफेद हाथी साबित हुयी है। लगभग दर्जन भर गांवों के किसानों से परियोजना से सिंचाई का लगान तो लिया जा रहा है लेकिन पानी नहीं मिल रहा है।
                         अजय सिंह और अनिल चौहान ने बताया कि किसानों के शोषण को देखते हुए कई बार आंदोलन किया गया। बावजूद इसके ना तो जिला प्रशासन ने संज्ञान में लिया और ना ही पूर्व सरकार ने किसानों के दुख दर्द को ही समझा। जबकि समय समय पर किसानों ने जिला कलेक्टर का भी घेराव किया है।
                      दोनों नेताओं ने बताया कि किसान आंदोलन और योजना के महत्व के मद्देनजर तात्कालीन कलेक्टर पी. अंबलगन ने सिंचाई विभाग के संबंधित अधिकारियों को मामले को लेकर कड़ी फटकार भी लगायी थी। योजना को फलीभूत करने का निर्देश भी दिया था। कलेक्टर के फटकार के बाद पहली बार अपर्याप्त ही सही लेकिन पानी दुलहरा तक पहुंचा। लेकिन 16 किमी लंबी जीर्ण शीर्ण नहर ने किसानों के सिंचाई के सपने को पूरा नहीं होने दिया।
                         कांग्रेस नेताओं ने जल संसधान मंत्री को बताया कि पेण्ड्रा और कोटा जल संसाधन विभाग के सवंदेनहीनता के कारण दर्जन भर गांवों के सैकड़ों किसानों को लगभग एक दशक पुरानी योजना का लाभ नहीं मिल रहा है। जिसके चलते बेलतरा क्षेत्र के किसान परेशान हैं। मुलाकात के बाद अनिल सिह चौहान ने बताया कि मंत्री रविन्द्र चौबे ने संबंधित अधिकारियों को समुचित निर्देश जारी कर शीघ्र ही योजना पर ठोस कार्यवाही का आश्वासन दिया है।
              अजय सिंह ने बताया कि चांपी दुलहरा सिंचाई योजना कांग्रेस नेता स्व. राजेन्द्र प्रसाद शुक्ला का सपना था। जलसंसाधन मंत्री ने मामले को गंभीरता लिया है। योजना पूर्ण होने से रानीगांव, मदनपुर, पेंडरवा गोंदईया, सिंघरी, भरवीडीह समेत दर्जन से अधिक गांवों के किसानों को फायदा मिलेगा। नहर की मरम्मत और व्यवस्थापन के बाद सिंचाई का पानी खेत तक पहुंचेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *