सिम्स आगजनीः एमएस का बेतुका बयान…जानकारी पर चौंके मंत्री..कहा…पता लगाता हुं..किसने और क्यों कहा..

इलेक्ट्रीक पेनल,cims,bilaspur,कोताही,मंत्री जय सिंह अग्रवाल,राजस्व एवं आपदा प्रबंधन, पुनर्वास पंजीयन एवं स्टाॅम्प विभाग,बिलासपुर—आगजनी की खबर सुनते ही राजस्व एवं आपदा प्रबंधन, पुनर्वास मंत्री मामले की जानकारी लेने सिम्स पहुंचे। इस दौरान लोगों ने सिम्स प्रबंधन और व्यवस्था पर लेकर जमकर नाराजगी जाहिर की। मंत्री जय सिंह अग्रवाल ने कहा कि मामले में जो भी दोषी या गलत पाया जाएगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। जय सिंह ने मामले में जांच की बात कही । उन्होने यह भी कहा कि घटना के लिए जिम्मेदार कोई कितने भी बड़े पद क्यों ना हो उसे नहीं छोड़ा जाएगा।
                 एमएस ने खुद को सिम्स के मैनेजर कहने के सवाल पर राजस्व मंत्री ने फोन पर बताया कि इस बात का पता लगाउंगा कि एमएस ने खुद को मैनेजर और डीन को मालिक कहने की जरूरत क्यों पड़ी । आगजनी का मामला गंभीर है। हादसे को कमतर आंकना लापरवाही की तरफ इशारा करता है। एमएस का  आगजनी की घटना को हल्के में लेना उचित नही होगा। जय सिंह अग्रवाल ने कहा कि सिम्स गया था। इस बात की जानकारी उन्हें नहीं मिली कि एमएस ने गलत बयानवाजी कर खुद को मैनजर बताकर पल्ला झाड़ने का प्रयास किया है। पता लगाऊंगा कि यह कौन है। गंभीर मामले में इस प्रकार का हल्कापन क्यों दिखाया गया।
                            बातचीत के बीच जय सिंंह ने कहा कि फोन पर ही एमएस से सम्पर्क कर बयान की जानकारी लूंगा। फिर भी हादसे की जांच करने को कहा गया है। जो भी जिम्मेदार होगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। कोताही बरतने वाले को छोड़ा नहीं जाएगा। 6 बच्चों का इलाज सिम्स में चल रहा है। इसमें से एक की मौत हो गयी है। डाक्टरों ने बताया कि मौत गंभीर बीमारी से हुई है। फिर भी मामले में पता साजी की जाएगी कि मौत धुआं भरने से तो नहीं हुआ है।
         माालूम हो कि एमएस बीपी सिंह ने शार्ट सर्किट के कारणों की जानकारी में बताया कि मैं सिम्स का मैनेजर हूं। इसके लिए हम सभी जिम्मेदार हैं। क्या कुछ करना या जांच होना है इसकी जानकारी सिम्स के मालिक यानि डीन देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *