पूर्व स्वास्थ्य मंत्री ने कहा..पीड़ित परिवार के साथ…हरसंभव करूंगा मदद…दिल्ली से लौटते ही प्रभावितों से मिलूंगा..

बिलासपुर–सिम्स में आगजनी घटना के बाद प्रदेश में हलचल है। अभी तक दो बच्चों की मौत हो चुकी है। यद्यपि कहा जा रहा है कि दोनों बच्चों की मौत धुएं की वजह से हुई है। बताया यह भी जा रहा है कि दोनों में एक बच्ची की मौत सेप्टिसिमिया से हुई है। जबकि दूसरी बच्ची की मौत का कारण अभी तक नहीं लग पाया है। फिर भी खबर मिल रही है कि बच्ची की मौत धुँए से हुई है।

                       मालूम हो कि एक दिन पहले जनरेटर कनेक्शन में शार्टी सर्किट से आग लग गयी थी। यद्यपि आग को तत्काल काबू कर लिया गया। लेकिन धुएं से रेडियोलाजी,आर्थोपेडिक के साथ पेड्रियाटिक और एनआईयूसी में धुआं भर गया। एनआईयूसी में उस समय 22 बच्चे एडमिट थे। आनन फानन में तीन जाबाजों ने सभी बच्चों को खुद को जोखिम में डालकर बचाया। 7 बच्चों को शिशुभवन,9 बच्चे जिला अस्पातल में भर्ती है। सुबह चिकित्सकों के अनुसार दो बच्चों की मौत हुई है।

                         इधर घटना के बाद पूर्व स्वास्थ्य मंत्री अमर अग्रवाल ने कहा कि मामले की जानकारी मिली है। फिलहाल इस समय मैं दिल्ली में हूं। घटना दुखद है। प्रभावित परिजनों के साथ मेरी पूरी सहानुभूति है। व्यक्तिगत रूप से पीड़ित परिवार के साथ खड़ा हूं। प्रभावित बच्चों के परिवार के साथ दुख की घड़ी में मैं हमेशा खड़ा रहूंगा। जो भी बनेगा मदद के लिए तैयार हूं। अमर ने कहा कि निश्चित रूप से आगजनी की घटना दुखद है। दिल्ली से लौटते ही पीड़ित परिवार के सदस्यों से मुलाकात करूंगा। यथासंभव मेरा पूरा सहयोग परिवार के सदस्यों और प्रभावितों के साथ रहेगा।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...