Railway में गणतंत्र दिवस :GM ने कहा – संविधान के प्रति जिम्मेदारी के लिए अपने आप को समर्पित करने का अवसर

बिलासपुर।दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के मुख्यालय सहित सभी मंडलों पर 70वां गणतंत्र दिवस पूरी गरिमा व पारंपरिक रूप से 26 जनवरी को मनाया गया। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह का मुख्य कार्यक्र्रम स्थानीय एन.ई.इंस्टीट्यूट मैदान पर आयोजित किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में सुनील सिंह सोइन, महाप्रबंधक, द.पू.म. रेलवे उपस्थित में हुए।

इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि ने रेलवे के आर.पी.एफ. के जवानों, सिविल डिफेंस के कार्यकर्ताओं, सेन्ट जाॅन्स एम्बुलेंस, एन.सी.सी. एवं स्काउट एण्ड़ गाईड के ट्रुपों द्वारा आकर्षक मार्च- पास्ट की सलामी ली।

इस महत्वपूर्ण अवसर पर मुख्य अतिथि सुनील सिंह सोइन ने उपस्थित लोगो को 70वें गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दी। उन्होनें कहा कि गणतंत्र दिवस का दिन हम सभी के लिए एक अत्यंत महत्वपूर्ण दिन है जब हम अपने देश के संविधान एवं देश के नागरिकों के प्रति अपनी जिम्मेदारी के लिए पुनः अपने आपको समर्पित करते है।

हमें इस बात पर गर्व है कि हमारे जोन की आय, भारतीय रेलवे के सभी जोनों में सबसे ज्यादा है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे बीस हजार करोड़ से ज्यादा अर्जित करने वाला एक मात्र जोन है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, भारत के सबसे ज्यादा माल लदान करने वाले जोन में से एक है. पिछले साल हमनें 180 मिलियन टन लदान की थी. इस साल हमारा लक्ष्य 193 मिलियन टन का है, हमनें दिसम्बर, 2018 तक 137 मिलियन टन लोडिंग की है जो कि पिछले वर्ष की तुलना में 3ः अधिक है. मुझे पूरा विश्वा1स है कि दल बल से हम लक्ष्य को प्राप्ते करने में सफल होंगे, यात्री परिवहन में भी हमारा काम काफी अच्छा रहा है।

श्री सोइन ने कहा कि हमारा आॅपरेटिंग अनुपात भी बेहतर है और दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, क्वालिटी काउंसिल आॅफ इंडिया द्वारा कराये गए तीसरी पार्टी आॅडिट के अनुसार भारतीय रेल के सबसे साफ क्षेत्र में से एक है, रेलवे बोर्ड द्वारा ट्रेनों की साफ-सफाई के संबंध में कराए गए तीसरी पार्टी आॅडिट के अनुसार हमारा जोन दूसरा सबसे साफ जोन है, खान-पान की अच्छी सुविधा के लिए ई-केटरिंग तथा स्टेशनों में ट्रेन साईड वेंडिंग की सुविधा उपलब्ध कराई गई है।

मुझे आप सभी को यह बताते हुए अत्यंत खुशी हो रही है कि हमारी रेलवे के बिलासपुर एवं रायपुर दो स्टेशनों में 100 फीट ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज को लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में आधारित संरचना को और अधिक विकसित करने के लिए तेजी से नई रेल लाइन, दोहरीकरण, तीसरी लाइन और गेज परिवर्तन के कार्याे को पूरा किया जा रहा है. वित्तीय वर्ष 2017-18 के दौरान हमनें 200 किलोमीटर से भी अधिक नई रेल लाइनों का निर्माण कर एक नया रिकाॅर्ड हासिल किया है।

इस वर्ष भी नए आधारित संरचना के निर्माण में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं. बिलासपुर में 100 लोको की धारण क्षमता के इलेक्ट्रिक लोको शेड में रखरखाव शुरू कर दिया गया है. ये उपलब्ध्यिां हमारे समर्पित रेल कर्मियों की मेहनत का ही परिणाम है।

हमारे रेल यात्रियों की सुविधा के लिए जरूरत के अनुसार फुट ओवर ब्रिज और प्लेटफार्म शेल्डर का निर्माण तेजी से किया जा रहा है। हमनें ये निर्णय लिया है कि जिन स्टेशनों में हाई लेवल प्लेटफार्म है, उन सभी स्टेहशनों में हम फुट ओवर ब्रिज का निर्माण करेंगे, हमारा जोन दिव्यांअग यात्रियों के लिए संवेदनशीलता के साथ काम कर रहा है, हमारे सभी महत्वेपूर्ण स्टेगशनों में दिव्यांग हितैषी शौचालय की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

रेलवे स्टेशनों एवं रेल पटरियों के आसपास स्वच्छता एवं स्वच्छ वातावरण को सुनिश्चित करें करने के लिये मार्च 2019 तक हम सारे कोचों में बाय-टाॅयलेट लगा लेगें, मुझे आप सब को बताते हुए ये गर्व हो रहा है कि बाय-टाॅयलेट से आने वाली दुर्गन्धज को दूर करने के लिए दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में किये गये इनोवेशन को भारतीय रेलवे में सर्वप्रथम स्थान मिला है, अब इस प्रणाली को सभी जोनल रेलवे द्वारा अपनाया जा रहा है। पर्यावरण संरक्षण में भारतीय रेलवे की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है. नवीकरणीय ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देना हमारी प्राथमिकता है. हमारी रेलवे में लगातार सौर ऊर्जा उत्पादन क्षमता में वृद्धि की जा रही है. अभी तक लगभग 1 मेघा वाट की क्षमता वाले सौर ऊर्जा उत्पादन क्षमता लगाए जा चुके हैं तथा कुल 54 मेघा वाट क्षमता के सौलर पावर इस्टोलेशन स्थापित करने की योजना है. ऊर्जा संरक्षण के लिए हमने अपने 260 रेलवे स्टेशनो में एलईडी लाईट फीटिंग लगा दी है।

भारतीय रेलवे द्वारा हमेशा से खेल एवं खिलाड़ियों को प्रोत्साहन दिया जाता रहा है. इस वर्ष हमारी रेलवे की खिलाड़ी इन्दु गुप्ता ने सौलापुर, महाराष्ट्रं में आयोजित सीनियर राष्ट्रीय हेंडबाॅल चेम्पियन में भारतीय रेलवे की टीम की तरफ से गोल्ड मेडल हासिल किया है. इसी प्रकार ब््रमबी त्मचनइसपब में आयोजित ॅवतसक त्ंपसूंल डंतंजीवद में हमारी रेलवे के दो खिलाड़ियों मोनिका राऊत एवं अरविंद यादव ने भाग लिया. इस चेम्पियन में भारतीय रेलवे ने दूसरा स्थान प्राप्त किया।
संरक्षा हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है. हम सभी सुरक्षित गाडी परिचालन के लिए प्रतिबद्ध हैं. हमें सुरक्षित परिचालन के लिए कभी भी कोई समझौता नहीं करना चाहिए।

ट्रेड यूनियन एवं संघों के पदाधिकारियों, सदस्यों एवं प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया को को धन्यवाद देते हुए उन्होनें कहा कि आपके बहुमूल्य सुझावों एवं सहयोग के कारण ही हमें अपने कार्य निष्पादन में सहभागिता प्राप्त होती रहती है एवं आपकी सक्रियता एवं सहभागिता के कारण हमें अपने कार्यो में सुधार हेतु सहयोग प्राप्त होते रहते हैं।

अंत मे उन्होने सभी रेलकर्मियों एवं उनके परिवारों तथा उपस्थित बच्चों के सुखद एवं उज्जवल भविष्य की कामना की।इस समारोह में बच्चों के लिए फेंसी ड्रेस प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया था। स्कूली बच्चों द्वारा आकर्षक ड्रिल, पी.टी. एवं अन्य देशभक्तिपूर्ण सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये।दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा गणतंत्र दिवस समारोह गरिमापूर्वक सभी मंडलो, फील्ड कार्यालयो एवं वर्कशापों में मनाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *