शहीद दिवसः राष्ट्रपिता को नम आखों से श्रद्धांजलि….कांग्रेसियों ने किया याद…पदचिन्हों पर चलने का लिया संकल्प

बिलासपुर—ज़िला  और शहर कांग्रेस कमेटी ने बुधवार को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को 72 वी शहादत दिवस याद किया। आदमकद प्रतिमा पर शहर अध्यक्ष नरेंद्र बोलर ने माल्यार्पण किया। इस अवसर पर शहर अध्यक्ष नरेंद्र बोलर,सैय्यद ज़फ़र अली ,हरीश तिवारी ने कहा कि महात्मा गांधी ने सत्य, अहिँसा, उपवास, को शस्त्र बनाकर विश्व में हिंसा के खिलाफ नई इबादत पेश की है। अधिकारों के लिए एक नई दिशा दी है। राष्ट्रपिता ने बताया कि बड़ी से बड़ी लड़ाई शांति के माध्यम से ना केवल लड़ा जाता है बल्कि जीता भी जाता है।

                कांग्रेस नेताओं ने राष्ट्रपिता को याद करते हुए कहा कि भारतीय स्वतन्त्रता आंदोलन में असहयोग आंदोलन, दांडी यात्रा, भारत छोड़ो आंदोलन के माध्यम से देश को आज़ादी मिली। 30 जनवरी 1948 को एक छद्मभेशी राष्ट्रभक्त ने कायरता का परिचय देते हुए शांति के दूत को मौत की नींद सुला दिया। लेकिन आज भी सत्य और अंहिसा की ज्योति पूरे देश में महात्मा गांधी को याद कर प्रज्वलित है। इस दौरान सभी कांग्रेस नेताओं ने दो मिनट का मौन भी धारण किया। नम आखों से राष्ट्रपिता को याद कर उनके पदचिन्हों पर चलने का संकल्प लिया।

                                     कार्यक्रम में प्रदेश प्रवक्ता अभय नारायण राय पूर्व विधायक  चंद्रप्रकाश बाजपेयी,एस पी चतुर्वेदी, एस एल रात्रे, बद्री जयसावाल,जसबीर गुम्बर,ऋषि पांडेय, माधव ओतलवार, विनोद शर्मा, राजेन्द्र साहू, त्रिभुवन कश्यप ,रामदुलारे रजक, आशा सिंह, कांता सिन्हा, आमना खान,पुष्पा शर्मा, तहरिमा, कामाक्षी पटनवार, शैलेन्द्र जयसावाल,किशोर घोरे,करम गोरख, सुभाष ठाकुर,सुभाष सराफ,जहूर अली, अमीन मुगल,अजय पन्त, राजीव गुप्ता,जिनेश जैन, तैय्यब हुसैन, उमेश कश्यप,राम निर्मलकर,रणजीत खनूजा, बद्री यादव, मनोज शर्मा, मोती ठारवानी,लल्ला सोनी, दिनेश सूर्यवँशी,प्रेमदास मानिकपुरी,कमलेश लव्हात्रे,पुष्पेंद्र मिश्रा विशेष रूप से मौजूद थे।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...