पंचायत प्रमुख सचिव आरपी मण्डल ने कहा-एनजीजीबी सीएम का प्रोजेक्ट,योजना के विकास में अतिक्रमण भी होगा दूर

बिलासपुर–पंचायत अपर प्रमुख सचिव आर पी मण्डल की अध्यक्षता में आज मंथन सभागार में पांचों जिलों के आलाधिकारियों की बैठक हुई। बैठक में मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट पर व्यापक चर्चा हुई। नरवा,गरूवा,घुरवा और बारी यानि एनजीजीबी प्रोजेक्ट के क्रियान्वयन और योजनाओं पर प्रमुख सचिव ने प्रकाश डाला। पत्रकारों से आरपी मण्डल ने बताया कि सीएम के ड्रीम प्रोजेक्ट को छत्तीसग़ के समग्र विकास को ध्यान में रखते हुए गंभीरता से लिया गया है। गौठानों की जमीन को सुरक्षित किया जाएगा। गांव को स्वावलम्बी बनाया जाएगा।

                                  अपर प्रमुख सचिव आरपी मण्डल ने संभाग के पांचों जिलों के जिला और जनपद पंचायत अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में आरईएस विभाग इंजीनियर, राज्य मुख्यालय के आलाधिकारियों ने भी शिरकत किया। आरपी मण्डल ने बताया कि ग्रामीण जन जीवन को स्वावलम्बी के साथ विकसित करने की दिशा में मुख्यमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट एनजीजीबी यानि नरवा,गरुआ,घुरवा और बाड़ी मील का पत्थर साबित होगा।

    पत्रकारों के सवालों के जवाब में मंडल ने बताया कि बैठक में शामिल सभी अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि तेजी एनजीजीबी प्रोजेक्ट को अमली जामा पहनाया जाए। प्रोजेक्ट की सफलता में कोतही को नजरअंदाज नहीं किया जाएगा। बैठक में योजना के 15 बिन्दुओं पर क्रियान्यवन को लेकर व्यापक चर्चा हुई है।

                      ग्रामीण क्षेत्र में नालों समेत अन्य पानी के स्रोत को संरक्षित करने की बात हुई है। इससे जल स्तर सुधरेगा। पानी की भी शिकायत दूर होगी। फसल चक्र को फायदा होगा। गांंवों के गौठान को युद्धस्तर पर सुरक्षित रखने को लेकर भी विचार विमर्श किया गया है।  सवाल के जवाब में मण्डल ने बताया कि अतिक्रमण को योजना के रास्ते से आने नहीं दिया जाएगा। गौठान बनाकर मवेशियों का संरक्षण के साथ ही कम्पोस्ट खाद को बढ़ावा दिया जाएगा। जिससे किसानों की उर्वरक पर निर्भरता कम होगी। खर्ज पर लगाम और पैदावार ज्यादा होगा।

                     नरवा पर लोगों ने तेजी से अवैध कब्जा किया है। क्या योजना को सफल बनाने ऐसे लोगों पर कार्रवाई होगी। मण्डल ने बताया कि योजना के 15 बिन्दुओं का अक्षरसः पालन होगा। कार्ययोजना बनाकर काम किया जाएगा। अतिक्रमण को बीच में नहीं आने दिया जाएगा। इस दौरान मण्डल और उनके अधिकारियों ने एनजीजीबी योजना के बिन्दुओं की क्रमवार जानकारी दी। बताया कि सभी अधिकारियों को योजना का मास्टर सर्कुलर दिया गया है।

                        लगातार व्हीव्हीआईपी मुवमेन्ट से कई कामकाज प्रभावित हो रहे हैं। क्या कुछ ऐसी व्यवस्था होगी कि मुवमेन्ट के साथ लोगों का कामकाज भी प्रभावित ना हो।  मण्डल ने कहा कि कुछ व्यवस्था जरूर बनेगी।

Comments

  1. By Raj chunni Sharma

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *