सरगुजा आईजी ने बलरामपुर पुलिस के कामकाज की समीक्षा कर,सूचनातंत्र की मजबूती और जनता से जुड़ाव के लिए दिये टिप्स

रामानुजगंज (पृथ्वीलाल केशरी ) सरगुजा रेंज के पुलिस महानिरीक्षक के.सी.अग्रवाल ने बलरामपुर पुलिस के कामकाज की समीक्षा की। पुलिस महानिरीक्षक का पदभार ग्रहण करने के बाद पहली बार जिला मुख्यालय बलरामपुर पहुंचे आइजी ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय की विभिन्न शाखाओं का निरीक्षण कर जिले भर के थाना व चौकी प्रभारियों की बैठक ली। इस बैठक में आइजी ने कामकाज के प्रति अपना नजरिया स्पष्ट करते हुए शांति, सुरक्षा व कानून व्यवस्था के कार्य में किसी भी प्रकार की कोताही न बरतने के निर्देश देते हुए फरियादियों के साथ मर्यादित व्यवहार कर उनकी शिकायतों पर त्वरित कार्रवाई सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। पुलिस महानिरीक्षक का पदभार ग्रहण करने के बाद आइजी के.सी.अग्रवाल ने बलरामपुर जिले में पदस्थ पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों की बैठक ली।
रेंज आइजी का पदभार ग्रहण करने के बाद पहली बार जिला मुख्यालय पहुंचने पर पुलिस लाइन में आइजी को गार्ड आफ आनर दिया गया। यहां जिले भर के पुलिस अधिकारियों ने उनकी आगवानी की। बैठक में सभी थाना व चौकी प्रभारियों का परिचय लेने के बाद आइजी ने जिले में घटित अपराधों की विवेचना का स्तर और अधिक सुधारने हेतु मार्गदर्शन दिया।
उन्होंने लंबित प्रकरणों के त्वरित निराकरण के लिए महत्वपूर्ण टिप्स दिए। आइजी ने कहा कि जिले में पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारियों का यह दायित्व है कि वे समय-समय पर थाना व चौकी प्रभारियों को आपराधिक घटनाओं की विवेचना,शिकायतों की जांच में मार्गदर्शन प्रदान करें। उन्होंने थाना व चौकी में आने वाले फरियादियों के साथ शालीन व मर्यादित व्यवहार करने, उनकी शिकायतों, आवेदनों पर यथोचित कार्रवाई सुनिश्चित किए जाने, थाना व चौकी परिसर की साफ-सफाई, अभिलेखों, हथियारों का रखरखाव बेहतर ढंग से करने के लिए भी प्रेरित किया।
सामुदायिक पुलिसिंग के क्षेत्र में चल रही गतिविधियों को और व्यापक स्वरूप प्रदान कर आमजनता से नजदीकियां बढ़ाने के लिए भी उन्होंने प्रेरणा दी। सूचना तंत्र की मजबूती के लिए जनता से जुड़ाव को सबसे अहम माध्यम निरूपित करते हुए आइजी ने एसपी बलरामपुर टी.आर.कोशिमा द्वारा बलरामपुर जिले में किए गए कार्यों की सराहना की गई। उन्होंने पुलिस अधीक्षक कार्यालय की शाखाओं के निरीक्षण के दौरान सीसीटीएनएस व दूर संचार विभाग के प्रभारी अधिकारियों को बेहतर कामकाज के लिए मार्गदर्शन भी दिया। झारखंड सरहद से लगे बलरामपुर जिले के सीमावर्ती क्षेत्रों में खास सतर्कता बरतने तथा निर्विघ्न व शांतिपूर्वक तरीके से लोकसभा चुनाव कराने को लेकर बलरामपुर पुलिस द्वारा तय कार्ययोजना पर भी उन्होंने चर्चा की।
पत्रकारों से चर्चा करते हुए आइजी के.सी.अग्रवाल ने कहा कि बलरामपुर जिले की सीमाएं झारखंड के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों से जुड़ी हुई हैं। बलरामपुर जिले में नक्सली गतिविधियां पूरी तरह से बंद हो चुकी हैं। इसके बावजूद सीमावर्ती क्षेत्रों में खास फोकस किया जा रहा है। नक्सल विरोधी अभियान के तहत पड़ोसी राज्यों के साथ मिलकर साझा अभियान पूर्व की तरह चलता रहेगा। जरूरी हुआ तो पड़ोसी राज्यों के अधिकारियों के साथ बैठक कर विशेष रणनीति भी बनाई जाएगी।
उन्होंने कहा कि सूचना तंत्र को और मजबूत किया जाएगा ताकि हर सूचना पुलिस तक आसानी से पहुंच सके। पुलिस महानिरीक्षक के.सी.अग्रवाल ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा पुलिसकर्मियों को सप्ताह में एक दिन का अवकाश दिए जाने की घोषणा की गई है। सरगुजा पुलिस रेंज में सरकार के इस निर्णय को जल्द ही लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मियों को सप्ताह में एक दिन अवकाश देने से पुलिस की ताकत कम नहीं होगी,बल्कि छुट्टी के बाद ड्यूटी पर लौटने वाले पुलिसकर्मी नए उत्साह और उमंग के साथ दायित्वों का निर्वहन करेंगे।
बैठक में पुलिस अधीक्षक टी.आर.कोशिमा,एएसपी प्रशांत कतलम, डीएसपी नक्सल आपरेशन रितेश चौधरी, एसडीओपी वाड्रफनगर धु्रवेश जायसवाल,रामानुजगंज एसडीओपी नितेश गौतम सहित सभी थाना व चौकी प्रभारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *