पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने किया प्रदेशस्तरीय पुलिस मॉनिटरिंग सेल का गठन,ये होंगे सदस्य

प्रत्येक मंगलवार ,पुलिस अधीक्षकों,पुलिस महानिदेशक डी.एम. अवस्थी,रायपुर।पुलिस महानिदेशक डी.एम. अवस्थी के द्वारा प्रदेश स्तर पर पुलिस कर्मियों के अनुशासन एवं कल्याण को नियमित रूप से मॅानिटर करने के उद्देश्य से प्रदेशस्तरीय ‘‘मॉनिटरिंग सेल’’ का गठन अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक(प्रशासन) अशोक जुनेजा की अध्यक्षता में किया गया। पुलिस महनिरीक्षक रेंज रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर, सरगुजा एवं बस्तर इसके सदस्य होंगे। यह मॅानिटरिंग सेल पुलिस कर्मियों के अनुशासन में सुधार एवं कर्मचारियों के कल्याण की दिशा में कार्य करेगा।सीजीवालडॉटकॉम के WhatsApp ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करे 

मॉनिटरिंग सेल की बैठक पुलिस महानिदेशक द्वारा ली गई एवं बैठक में यह तय किया गया कि इकाई स्तर परKYM ( Know Your Men ) कार्यक्रम प्रारॅंभ किया जाएगा जिसके तहत् इकाई प्रमुख एवं उनके अधिकारी अपने सभी कर्मचारी से प्रत्यक्ष रूप से मिलेंगे एवं कर्मचारी के अनुशासन के स्तर, उसकी समस्याएं एवं उसकी मानसिक स्थिति की जानकारी लेकर प्रत्येक कर्मचारी का प्रोफाईल तैयार करेंगे।

इस दौरान कर्मचारी की जायज समस्याओं का निराकरण किया जावेगा तथा अनुशासनहीन कर्मचारी पर अनुशासनात्मक कार्यवाही की जावेगी।

उक्त बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि पुलिस कर्मियों की समस्याओं एवं उनके मानसिक तनाव के निराकरण हेतु पुलिस मुख्यालय में महिला एवं पुरूष पुलिस कर्मियों के लिए पृथक-पृथक 02 ग्रिवान्स सेल ‘‘अनुग्रह’’ के नाम से प्रारंभ किये जा रहे हैं।

उप पुलिस महानिरीक्षक नेहा चम्पावत की अध्यक्षता में महिलाओं की समस्याओं के निराकरण के लिए एवं उप पुलिस महानिरीक्षक सुशीलचंद द्विवेदी की अध्यक्षता में पुरूष कर्मचारियों के लिए यह अनुग्रह सेल कार्य करेंगे।

यह भी निर्णय लिया गया कि इसी तरह के अनुग्रह सेल जिला सहित सभी पुलिस इकाईयों एवं रेंज पुलिस महानिरीक्षक के कार्यालयों में गठित होंगे जिनके माध्यम से कर्मचारियों की समस्याओं एवं उनके मानसिक उलझनों का निराकरण किया जा सके।

उक्त अनुग्रह सेल में कर्मचारियों के स्थानान्तरण, पदोन्नति एवं नियुक्ति की समस्याओं को छोड़कर उनकी अन्य सभी प्रकार की पारिवारिक, विभागीय, व्यक्तिगत समस्याओं को सुना जावेगा एवं उन पर कार्यवाही की जावेगी ताकि कर्मचारी अपनी समस्याओं को लेकर मानसिक तनाव एवं आत्मघाती निर्णयों से स्वयं को दूर रख सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *