प्रेक्षकों ने कहा..शिकायत की होगी कार्रवाई..SP ने जताया असंतोष..बोले कलेक्टर..महिलाओं की चेकिंग में प्रायवेसी जरूरी

बिलासपुर—- मंथन सभागार में व्यय प्रक्षकों की बैठक हुई। इस दौरान व्यय प्रेक्षकों ने लोकसभा चुनाव के लिए बनाए गए दलों को जरूरी दिशा निर्देश दिया। व्यय प्रेक्षकों ने सभी दलों को निर्देश दिया कि सभी लोग अपनी दायित्वों का निर्वहन करें।
                        मंथन सभागार में व्यय प्रेक्षकों ने लोकसभा चुनाव प्रक्रिया के लिए गठन किए गये विभिन्न दलों के जिम्मेदार अधिकारियों के साथ बैठक की। व्यय प्रेक्षक दीपक देवरानी और निकोलस मुरमू ने मंथन सहायक व्यय प्रेक्षक, लेखादल, स्थैतिक निगरानी दल, उड़न दस्ता दल, विडियो निगरानी दल और विडियो अवलोकन दलों की बैठक को संबोधित किया। दोनों प्रेक्षकों ने सतर्कता से अपने-अपने दायित्वों का निर्वहन करने की हिदायत दी।
सख्त कार्रवाई का निर्देश
                                  बैठक में विधानसभा क्षेत्र कोटा, लोरमी, मुंगेली, तखतपुर के व्यय प्रेक्षक देवरानी और विधानसभा क्षेत्र बिल्हा, बिलासपुर, बेलतरा, मस्तूरी के व्यय प्रेक्षक मुरमू ने स्थैतिक निगरानी दल और उड़न दस्ता दलों को अपने कर्तव्यों का निर्वहन अत्यंत सावधानी से करने को कहा। प्रेक्षकों ने कहा कि भ्रष्टाचार की शिकायतें नहीं मिलनी चाहिए। शिकायत मिलने पर सख्ती से कार्रवाई होगी।
महिलाओं की प्रायवेसी–कलेक्टर
                          कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने निर्देश दिया कि निर्वाचन अवधि में मदिरा और पैसे की आवाजाही विशेष नजर रखें। एसएसटी और उड़नदस्ता दल मुस्तैदी से कार्य करें। एसएसटी दल जांच के दौरान महिलाओं की प्राइवेसी का पूरा ध्यान रखें। यदि शक हो तो सम्मानजनक तरीके से उनकी चेकिंग करें। दूसरे प्रांत और अन्य जिले से आनेवाले वाहनों की सघन चेकिंग करें। संदेहास्पद व्यक्ति या वाहनों का पूरी तरह से जांच करना है। एसएसटी दलों को अनिवार्य रूप से रजिस्टर में दर्ज करें। चेकिंग की जाने वाले वाहनों का पूरा विवरण दर्ज हो। वेरिकेट या अन्य किसी भी समस्या के लिए पासे के थाने, तहसीलदार या एसडीएम से संपर्क करें। सी-विजिल एप लगातार उपयोग में लाएं।
एसपी ने जताया असंतोष
                                         पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा ने अबतक के कार्यो पर असंतोष जाहिर करते हए कहा कि एसएसटी दले सख्ती से कार्रवाई करें। वाहने का अच्छी तरह चेकिंग किया जाए। उन्होने बताया कि जिले में एसएसटी जांच के लिए कुल 17 पाईट निर्धारित किये गये हैं।  बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी सुमीत अग्रवाल, नगरनिगम के संयुक्त संचालक वित्त आर.बी. वर्मा और अन्य सम्बधित अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *