भीषण गर्मी में लगेंगी कक्षाएं…. समर कोचिंग क्लास का संयुक्त शिक्षाकर्मी संघ ने किया विरोध

जगदलपुर।प्रतिवर्ष शिक्षको एवं स्कूली बच्चों को 1 मई से 15 जून तक ग्रीष्मावकाश मिलता आ रहा है, इस वर्ष राज्यं परियोजना कार्यालय राजीव गाँधी शिक्षा मिशन छत्तीसगढ़ रायपुर के द्वारा आदेश जारी के 1 मई 2019 से सभी प्राथमिक माध्यमिक शालाओ में बच्चो संज्ञानात्मक एवं सह संघ्यात्मक क्षेत्र , लर्निंग आउटकम ,एवं बच्चो की शाला की प्रति रुचि एवं अगली कक्षा प्रवेश के लिए तैयार किया जाना है । परियोजना कार्यालय के इस आदेश से शिक्षकों में भारी निराशा देखी जा रही है। भीषण गर्मी में स्कूली बच्चे एक तरफ परीक्षा समाप्ति के बाद शाला में नही आ रहे हैं वंही 1 मई से समर क्लासेस में बच्चो को लाना बहुत ही मुश्किल कार्य लग रहा है । सीजीवालडॉटकॉम के Whatsapp ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

सयुक्त शिक्षा कर्मी संघ के बस्तर जिला अध्यक्ष शैलेन्द्र तिवारी ने जारी विज्ञप्ति में कहा कि इस सत्र में कर्मचारी विधानसभा, लोकसभा का चुनाव सम्पन्न कराए हैं, वर्तमान में राज्य स्तरीय आकलन परीक्षा का सफलता पूर्वक संचालन का कार्य सभी शिक्षको ने पूर्ण करवाया, अब 1 मई से नए आदेश से शिक्षक समुदाय निराश हैं।

जिला अध्यक्ष शैलेंद्र तिवारी ने बताया कि स्थानीय ग्रामीणों ग्राम पंचायतों स्वंम सेवी संस्थानो के माध्यम से अगर यह कार्य करवाया जाता तो उचित होता ।जो भी शिक्षक स्वेच्छा से इस कार्य को करना चाहते हैं उन्हें ही इसकी जवाबदारी दी जाए। शैलेन्द्र तिवारी ने कहा कि शादी विवाह का सीजन है ऐसे समय समर का क्लास लगाना शिक्षको के लिए दुविधा जनक लग रहा है संघ का उच्च स्तरीय प्रतिनिधि मंडल कलेक्टर बस्तर से मिलकर इस समस्या से अवगत कराएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *