समर कैंप आयोजन को लेकर शिक्षक संघ ने कलेक्टर-डीईओ के नाम सौंपा ज्ञापन,भीषण गर्मी के चलते कैंप आयोजन पर पुनर्विचार की रखी मांग


बालोद-
जिले के प्राथमिक व माध्यमिक शालाओ मे 1 मई से 15 जून तक समर कैंप आयोजित करने पर पुनर्विचार की मांग को लेकर छग पंननि शिक्षक संघ बालोद के जिला पदाधिकारियो ने जिला कलेक्टोरेट मे अपर कलेक्टर भूपेंद्र अग्रवाल को कलेक्टर के नाम व जिला शिक्षा अधिकारी के नाम सहायक जिला शिक्षा अधिकारी एम खान को ज्ञापन सौंपा।सौंपे गए ज्ञापन मे संघ ने भीषण गर्मी व स्कूलो की बुनियादी सुविधा को ध्यान मे रखते हुए समर कैंप आयोजन पर पुनर्विचार करने की मांग रखी है ।वही जहां भीषण गर्मी के चलते अधिकांश जिले मे अप्रैल के अंतिम सप्ताह मे अवकाश की घोषणा कर दी गई थी ।ऐसे मे मई व जून मे पुनः स्कूल संचालन कर समर कैंप आयोजित करने पर शिक्षको मे नाराज़गी है।सीजीवालडॉटकॉम के Whatsapp ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

संघ के पदाधिकारियो ने कहा है कि नवीनता व परिवर्तन प्रकृति का नियम है,लेकिन जब चाहे तब नए नए प्रयोग उचित नही।प्रदेश भर में लगातार समय पर नियमित उपस्थिति देकर शिक्षा का प्रतिशत व गुणवत्ता शिक्षा को शिक्षको ने लगातार ऊंचाई प्रदान किया है।पूर्व से घोषित अवकाश के आधार पर गर्मियो की छुट्टी की शिक्षक परिवार ने भी प्लानिंग की है।

ग्रीष्मावकाश में समर क्लास डयूटी के तहत हजारो शिक्षक परिवार की कार्ययोजना अब अधर में लटक गई है।शासन की ऐसी योजना पूर्व नियोजित होना चाहिए तथा इसकी दिशा भी स्थाई होना चाहिए।ताकि शिक्षक आने वाले शिक्षा सत्र की बेहतर तैयारी कर सके।

शिक्षको को ग्रीष्मावकाश देने के पीछे शिक्षको की मानसिक प्रबुद्धता में वृद्धि तथा स्वाध्याय प्रमुख है। अगर शिक्षको को अवकाश या चिंतन का समय नही मिलेगा तो वे नवाचार कैसे अपना पाएंगे?

वही जहाँ दूसरे विभाग वालो को 30 दिन से लेकर 90 दिन तक का अर्जित अवकाश मिलता है और माह में दो शनिवार का अवकाश,इस प्रकार साल में 24 अवकाश मिलते है। वही शिक्षा विभाग के शिक्षको को मात्र 10 दिन का अर्जित अवकाश मिलता है।माह में 02 शनिवार की छुट्टी नही मिलने के कारण ही गर्मी में 45 दिन का अवकाश मिलता है।व इसलिए केवल 10 दिन का अर्जित अवकाश मिलता है।समर कैंप के नाम से शिक्षको के अवकाश को खपाने से शिक्षको मे नाराजगी है ।

छ ग पं न नि शिक्षक संघ बालोद ने राज्य शासन से भीषण गर्मी, स्कूलो मे उपलब्ध सुविधाए आदि को दृष्टिगत रखते हुए समर कैंप आयोजन पर पुनर्विचार करने की मांग की है ।संघ की ओर से ज्ञापन सौंपने वालो मे जिलाध्यक्ष दिलीप साहू ,प्रदीप साहू प्रदेश सहसचिव,उपाध्यक्ष रामकिशोर खरांशु,माधव साहू ,जिला सचिव रघुनंदन गंगबोईर,लेखराम साहू जिला मीडिया प्रभारी,पवन कुम्भकार, शिव शांडिल्य,जगत साहू,हरीश साहू सम्मिलित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *