CBSE 10th Results 2019: सीबीएसई बोर्ड 10वीं में लड़कियों ने फिर मारी बाजी

cbse,ctet,july,exam,date,sheet,2019,released,candidates,cbse board exams,2019,class,exam,date,march,vocational,subjects,exam,february,midनई दिल्ली-सीबीएसई बोर्ड क्लास 10 का रिजल्ट (CBSE Board Class 10th Results 2019) घोषित हो चुका है. इस बार सीबीएसई बोर्ड में 91.1 परसेंट स्टूडेंट्स पास हुए (Passing percentage of cbse board class 10th is 91.1% ). इस बार सीबीएसई बोर्ड रिजल्ट में लड़कियों ने फिर बाजी मारी है. लड़कियों का कुल उत्तीर्ण प्रतिशत 92.45 प्रतिशत और लड़कों का 90.14 प्रतिशत और ट्रांसजेंडर का 94.74 प्रतिशत है. इस साल 1761078 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए हैं, जिसमें से 1604428 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए हैं। इस वर्ष कुल पास प्रतिशत 4.40 प्रतिशत बढ़ा है.सीजीवालडॉटकॉम के Whatsapp ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

इस बार सीबीएसई बोर्ड ने काफी जल्दी 10वीं और 12वीं के रिजल्ट (CBSE Board Class 10th and 12th Results 2019) घोषित कर दिए हैं. इसके पहले 2 मई को सीबीएसई ने 12वीं के रिजल्ट घोषित किए थे.

सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board 10th Result) की कक्षा 10 की (CBSE Board official website) ऑफिशियल वेबसाइट cbse.nic.in और cbseresults.nic.in पर रिजल्ट जारी किया जाएगा. स्टूडेंट्स इनमें से किसी भी वेबसाइट पर अपना रिजल्ट जान सकेंगे.

CBSE 10th Result 2019 ऐसे करें चेक

  • 10वीं का रिजल्ट चेक करने के लिए सीबीएसई की ऑफिशियल वेबसाइट cbseresults.nic.in पर जाएं.
  • वेबसाइट पर दिए गए CBSE Class 10 Result पर क्लिक करें. एक नया पेज खुलेगा.
  • नए पेज में अपना रोल नंबर भरकर सबमिट करें.
  • आपका रिजल्ट स्क्रीन पर आ जाएगा.
  • यहीं से आप अपने रिजल्ट का प्रिंट आउट ले सकते हैं.

सीबीएसई बोर्ड के 12वीं का रिजल्ट 2 मई को घोषित हुआ था. बोर्ड ने परीक्षा खत्म होने के 28 दिन बाद रिजल्ट घोषित कर दिया था. 12वीं की परीक्षा में इस साल 83.4 फीसदी स्टूडेंट्स सफल हुए थे. 12वीं में गाजियाबाद डीपीएस की हंसिका शुक्ला और एसडी पब्लिक स्कूल मुजफ्फरनगर की करिश्मा अरोड़ा ने टॉप किया था. दोनों को 500 में से 499 अंक मिले थे.

29 मई को पिछले साल आया था रिजल्ट

CBSE ने पिछले साल 12वीं के रिजल्ट के तीन दिन के भीतर 29 मई को 10वीं का रिजल्ट जारी किया था. पिछले साल 86.70 प्रतिशत बच्चे परीक्षा में उत्तीर्ण हुए थे.

इस वर्ष तिरुवनंतपुरम क्षेत्र के छात्रों का रिजल्ट सबसे अधिक 99.85 प्रतिशत रहा और सबसे कम गुवाहाटी 74.49 प्रतिशत रहा जबकि दिल्ली 80.97 प्रतिशत के साथ नौवें स्थान पर रहा।
केंद्रीय विद्यालय के 99.47 छात्र पास हुए जबकि जवाहर नवोदय विद्यालय के 98.57 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए। सरकारी स्कूलों का पास प्रतिशत 71.91 प्रतिशत रहा जबकि सरकार द्वारा अनुदान प्राप्त स्कूलों के नतीजे 76.95 प्रतिशत रहे। स्वतंत्र स्कूलों का प्रतिशत 94.15 प्रतिशत रहा।

यह परीक्षा पन्द्रह फरवरी से चार अप्रैल तक 19 हजार 298 स्कूलों के चार हजार 974 केंद्रों पर हुई। परीक्षा में 16 लाख, चार हजार 428 छात्र पास हुए। इनमें किन्नर छात्रों का रिजल्ट 94.74 प्रतिशत रहा जो पिछले साल की तुलना में 11.41 प्रतिशत अधिक है।

विदेशों में सीबीएसई के 23 हजार 494 छात्रों ने परीक्षा दीं जिनमें 23 हजार 200 छात्र पास हुए और उनका पास प्रतिशत 98.75 रहा।

दिल्ली में तीन लाख 25 हजार 638 छात्र पंजीकृत थे जिनमें तीन लाख 22 हजार 76 छात्रों ने परीक्षाएं दी और उनमें दो लाख 60 हजार 789 छात्र पास हुए। इस तरह उनका प्रतिशत 80.97 रहा जो जबकि पिछले साल 78.62 प्रतिशत था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *