जनता कांग्रेस का हंगामा..आयुक्त कार्यालय को घेरा…उग्र आंदोलन की दी धमकी…नेताओं के सामने नशेड़ी कार्यकर्ता की तड़ी

बिलासपुर— जनता कांग्रेस नेताओं ने आज विक्रांत तिवारी, विश्वम्भर गुलहरे और समीर अहमद की अगुवाई में निगम आयुक्त कार्यालय का घेराव किया। आयुक्त चैम्बर के सामने दो दर्जन से अधिक नेताओं ने झण्डा बैनर के साथ जिन्दाबाद और मुर्दाबाद के नारे लगाए। बिलासपुर मे  भीषण जल संकट की समस्या को  खत्म करने की मांग की गयी। नेताओं ने कहा कि सात दिनों के अन्दर जल समस्या का निराकरण नहीं किया गया तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।
                      दो दर्जन से अधिक संख्या में जनता कांग्रेस नेता बैनर पोस्टर के साथ विकास भवन पहुंचकर नारेबाजी की। जनता कांग्रेस नेताओं ने विक्रांत तिवारी,समीर अहमद और विश्वम्भर गुलहरे की अगुवाई में आयुक्त चैम्बर का घेराव किया। जनता कांग्रेस नेताओं ने शहर में पानी समस्या पर अपनी बातों को रखते हुे निगम अधिकारियों के काम काज को जमकर निशाना। जनता कांग्रेस नेताओं ने कहा कि चारो तरफ पानी को लेकर हाहाकार है। बावजूद इसके निगम प्रशासन की तरफ से कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। असफल योजनायें,प्रदूषित जल प्रदाय,और टैंकर की कमी पर भी जोगी ब्रिगेड ने अधिकारियो पर निशाना साधा।
                       शहर में जल संकट को दूर करने की मांग को लेकर जनता कांग्रेसी विकास भवन मे घुसकर नारेबाजी की। काफी हंगामा के बाद आयुक्त की अनुपस्थिति में निगम अधिकारी जनता कांग्रेस नेताओं से बातचीत की। संयुक्त संचालक वित्त बीआर वर्मा, उपायुक्त मिथिलेश अवस्थी, पी.के.पंंचायती के सामने जनता कांग्रेस नेताओं ने सात सूत्रीय मांग पत्र सौंपा। नेताओं ने कहा यदि सात दिनों के अन्दर सात बिन्दुओं को गंभीरता से नहीं लिया गया तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।
                      निगम अधिकारियों को सात बिन्दु वाला पत्र देते हुए शहर अध्यक्ष विश्वम्भर गुलहरे ने कहा कि आरपा नदी के किनारे बसे शहर मे एक समय किसी भी घर,मोहल्ले,पारा मे पानी की समस्या नही थी। पिछले कुछ वर्षो से शहर लगातार जल संकट से जूझ रहा है। इसके लिए निगम प्रशासन जिम्मेदार है। जनता कांग्रेस के जिला कार्यकारी अध्यक्ष इंजी.विक्रांत तिवारी  ने अधिकारियो के सामने योजनाओ मे टेक्निकल चूक को सामने रखा। तिवारी ने बताया कि ड्रेन टू ड्रेन.सीसी सडको का जाल, नालियो को आरसीसी करवाना, शहर के विभिन्न रास्तो से पेड़ो का नमो निशान मिटा देना ,शहर के जल स्तर के लगातार गिरने की प्रमुख वजह हैं। दुख के साथ केहना  पड रहा है की आज की तारीख मे शहर के कई वार्ड के लोग दूषित पानी पीने को मजबूर हैं। छात्रसंघ प्रदेश अध्यक्ष टिकेश प्रताप सिंह ने कहा की हर तरफ पानी की किल्लत है। लेकिन नगर निगम की तरफ से पानी का प्रबंधन ठीक से नहीं किया जा रहा है।
                     समीर अहमद ने बताया कि पार्टी के नेताओं ने निगम को सात बिन्दु के साथ पत्र दिया है। यदि बिन्दुओं को गंभीरता से नहीं लिया गया तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। हमारी मांग है कि प्रत्येक वार्ड में कम से कम 1 पानी टैंकर की व्यवस्था हो।  शहर के जल स्तर को बढाने सीसी रोड और ड्रेन के बीच मे वॉटर हार्वेस्टिंग करने पेच बनवाए जाएं। जल स्तर को बरसात बाद भी बनाए रखने मुख्य सडको,वार्डो मे सडक किनारे पौधे लगाए जाएं।
निगम कमिटी बनाकर जल समस्याओं को तत्काल ठीक करे। वर्डो मे बन्द बोर, पम्प आदी को साफ कर जन आक्रोश को दूर करे।
                       इस दौरान विश्वम्भर गुल्हरे,विक्रांत तिवारी,सामीर अहमद, टिकेश प्रताप सिंह,मार्गरेट बेंजामिन,गोपल यादाव,मनीष  जार्ज,सुब्रत जाना, राज बहादुर,सहूंग दास,रितेश बाजपाई, लोमस साहू,सुनील वर्मा,दिपक राही,सुधीर गोधरे,वहाब अली,दिलदार सिंह, चिंतादेवि, चुन्नलाल,बांटि कौशल, रुपेश चौबे,इम्तियज़,शाक्ति वर्मा आदी कार्यकर्ता मौजुद थे।
कार्यकर्ता की पिटाई
                         जब जनता कांग्रेस के नेता सात बिन्दू को लेकर निगम अधिकारियों से चर्चा कर रहे थे। पार्टी कार्यकर्ता नशे की हालत में गाली गलौच करने लगा। इतना सुनते ही लोगों ने उसे पीटना शुरू कर दिया। जनता कांग्रेस नेताओं ने बताया कि मार खाने वाले व्यक्ति का उनकी पार्टी से कोई लेना देना नहीं है। फिर भी जनता कांग्रेस नेताओं के साथ पुलिस ने बीच बचाव कर नशे की हालत में गाली गलौच करने वाले को बचाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *