मेयर और कमिश्नर ने कहा…अरपा को बनाएंगे सरस सलील…जनसमर्थन से सफल होगा दो दिवसीय महाभियान

बिलासपुर—अरपा उत्थान महाअभियान को लेकर निगम कमिश्नर प्रभाकर पाण्डेय ने कर्मचारियों की महाबैठक ली। इस दौरान सभी विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों के अलावा निगम स्टाफ विशेष रूप से मौजूद था।अरपा नदी की सफाई और सरस सलील बनाने की दिशा में जिला प्रशासन और नगर निगम ने अरपा उत्थान अभियान चलाने का फैसला किया है। अभियान 11 और 12 जून को सुबह 6 से 8 बजे तक छठघाट में आयोजित किया जाएगा। अभियान में श्रमदान के माध्यम से अरपा की सफाई करने के साथ पौधरोपण और अरपा को सरस सलील बनाने के लिए लोगों से मार्गदर्शन लिया जाएगा।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने यहाँ क्लिक करे
                      बैठक को संबोधित करते हुए कमिश्नर प्रभाकर पाण्डेय ने कहा कि जिला प्रशासन और नगर निगम की तरफ से अरपा उत्थान के लिए अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के दौरान सुबह 6 से 8 अरपा की सफाई के साथ अरपा तट पर पौध रोपण भी किया जाएगा। अभियान के दौरान बच्चों के लिए पर्यावरण सुरक्षा विषय पर चित्रकला स्पर्धा का आयोजन होगा। कार्यक्रम के दौरान लोगों से अरपा को सरस सलील बनाने के लिए मार्गदर्शन भी लिया जाएगा।

यह भी पढे-कैबिनेट बैठक में सभी शिक्षा कर्मियों के संविलयन का फैसला करे भूपेश बघेल सरकार,फेडरेशन ने की मांग

                                            इसके अलावा वाटर हार्वेस्टिंग लगाने, शहर को स्वच्छ रखने, नालियों में कचरा नहीं फेंकने और सूखा, गीला कचरा अलग-अलग रखने के लिए लोगों को जागरूक किया जाएगा। कमिश्नर ने अभियान में निगम के सभी अधिकारियों, कर्मचारियों, ठेका श्रमिकों समेत अप्रत्यक्ष और प्रत्यक्ष रूप से निगम से जुड़े लोगों को अधिक से अधिक संख्या में शामिल होने को कहा। बैठक में निगम के 400 से ज्यादा अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे।
अभियान में शामिल होने मेयर ने की अपील
                    मेयर किशोर राय ने कहा कि शहर के गिरते भूजल स्तर को सामान्य स्तर पर लाने के लिए अरपा की सफाई के साथ पौधरोपण और वाटर हार्वेस्टिंग ही एक मात्र विकल्प है। जिला और निगम प्रशासन की तरफ से अरपा उत्थान महाअभियान चलाया जा रहा है। मेयर राय ने अरपा उत्थान के महाअभियान में श्रमदान करने और शहर को स्वच्छ बनाने के लिए शहर के सभी पार्षद, जनप्रतिनिधियों और जनता जनार्दन से अधिक से अधिक संख्या में शामिल होने को कहा है।
loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...