भूपेश कैबिनेट फैसला-एपीएल परिवारों को भी मिलेगा 10 रुपये किलो में चावल,डिफाल्टर हुए किसानों का भी कर्ज वन टाइम सेटलमेंट के आधार पर होंगे माफ


रायपुर।
लोकसभा चुनाव के लिए लगे आचार संहिता के बाद ये पहली कैबिनेट की बैठक है। कैबिनेट की बैठक में आज किसानों को बड़ी राहत देने का ऐलान किया है। कैबिनेट बैठक के बाद इसकी जानकारी खाद्य मंत्री मोहम्मद अकबर ने देते हुए कहा कि “कांग्रेस ने जनघोषणा में हमने कहा था सभी परिवार को राशन कार्ड के दायरे में लाएंगे.हमने फैसला लिया है कि राज्य के सभी परिवारों को राशन कार्ड के दायरे में लाएंगे. एपीएल परिवार को 10 रुपये प्रति किलो के हिसाब से दिया जायेगा.”उन्होंने कहा कि “नया राशन कार्ड बनाया जाएगा. जब तक नया नहीं बनेगा तब तक पुराने कार्ड से राशन मिलता रहेगा. 58 लाख राशन कार्ड है,सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने यहाँ क्लिक करे

बाकी राशन कार्ड बनाये जाएंगे. राज्य के सभी 65 लाख परिवार का राशन कार्ड बनाएगी.”वहीं उन्होंने सतीश चंद्र वर्मा को एजी बनाये जाने का कार्योत्तर सहमति दी गई है.

इसके अलावा झीरम हमले में शहीद महेन्द्र कर्मा के बेटे आशीष कर्मा को डिप्टी कलेक्टर बनाए जाने के मामले में उन्होने बताया,” स्व महेंद्र कर्मा के बेटे आशीष कर्मा को डिप्टी कलेक्टर बनाया गया था, इसे पीएससी के पद से बाहर करने का निर्णय लिया गया है.”

अनुसूचित विकास प्राधिकरण को पहले सिर्फ 4 कामों को स्वीकृत करने का अधिकार था, अब उन विकास कार्यों का विस्तार किया गया है। अब वो 11 कामों को स्वीकृत कर पायेंगे।

अशासकीय स्कूलों व कालेज के फीस निर्धारण के लिए एक कमेटी बनायी जायेगी, जो ना सिर्फ शिकायतों पर गौर करेगी बल्कि उनके फीस और अन्य शिकायतों के अधार पर कार्रवाई करेंगी।

राज्य सरकार ने एक महत्वपूर्ण फैसला लेते हुए अब 12वीं तक के बच्चों को शिक्षा के अधिकार के तहत लाभ देने का फैसला लिया है। पहले ये लाभ सिर्फ 8वीं तक के बच्चों को मिलता था, लेकिन अब 12वीं तक के बच्चों को फ्री में शिक्षा और गणवेश के साथ किताबें दी जायेगी।

Comments

  1. By V Sagar Mitra

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *