सैनिकों ने बिगाड़ा बाजार…40 में बिका 80 का प्याज

IMG_20151001_155718बिलासपुर—शिवसैनियों ने नेरूरु चौक पर सस्ते दाम में आलू प्याज बेचकर मंहगाई के विरोध में अनोखा विरोध प्रदर्शन किया। शिवसैनिकों के स्टाल में आलू प्याज लेने ग्राहकों की जमकर भीड़ देखने को मिली। सैनिकों ने कहा जब सरकार जब 20 रूपए का चावल 2 रुपए में बेंच सकती है। तो 80 रूपए का प्याज 40 रूपए में भी बेच सकती है। हमने स्टाल लगाकर सरकार को बताने का प्रयास किया है कि चाऊर वाले बाबा अब प्याज वाले बाबा बन जाओ। इससे आने वाले चुनाव उन्हें फायदा ही मिलेगा।

                   नेहरू चौक पर महंगाई के खिलाफ शिवसैनिकों ने अनूठा प्रदर्शन किया। बाजार बिगाड़ते हुए आज शिवसैनिकों ने दिनभर 80 रूपए का प्याज चालिस रूपए में बेचा। इसी तरह 30 किलो बिकने वाला आलू स्टाल में 25 रूपए रूपए में दो किलो में सेल किया गया।

                           शिवसैनिक नेता सुनील झा ने बताया कि महंगाई की हद हो गयी है। खाने पीने के सामान महंगा होने से लोगों की कमर टूट गयी है। भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने व्यापारियों को जमकर बढ़ावा दिया है। दोनों हाथ से राशन और सब्जी बाजार में लूट खसोट किया जा रहा है। आम जनता और गरीबों में महंगाई को लेकर त्राहि त्राहि मची हुई है।

               सुनील झा ने बताया कि हम भारतीय जनता पार्टी सरकार की आंख खोलना चाहते हैं कि चालिस रूपए प्रति किलो बेचने के बाद भी हमें फायदा है। उन्होंने कहा कि 25 रूपए में दो किलो आलू बेचकर हमें कोई नुकसान नहीं हुआ है। लेकिन सरकार अपनी मनमानी से बाज नहीं आ रही है। कमीशनखोरों और पूंजीपतियों ने मनमानी दाम बढ़ाकर रोजमर्रा की चीजों को मुंह से छीन लिया है। अब तो डर लग रहा है कि कहीं नमक में भी कमीशनखोरी शुरू ना हो जाए। यदि ऐसा हुआ तो अब गरीबों की थाली से प्याज के साथ नमक भी गायब हो जाएगा।

                     झा ने बताया कि प्रदेश सरकार जब 20 रूपए का चावल 2 रूपए में बेचकर घाटे में नहीं है तो प्याज का साथ भी ऐसा हो सकता है। हमारी मांग है कि सरकार प्याज की कीमत पैतिंस और चालिस के बीच कर दे। आने वाले चुनाव में उन्हें भरपूर फायदा मिलेगा। जनता उन्हें प्याज वाले बाबा कहेगी। भगवान बनाकर पूजेगी भी। झा ने कहा कि हद हो गयी है। किसानों को ठगने के बाद प्रदेश सरकार ने गरीबों को भी नहीं छोड़ा है। सूखी रोटी के साथ एक प्याज ही था जिसे 80 रूपए किलो कर दिया गया है। आलू का दाम भी आसमान छूने लगा है। हम लोगों ने आज प्याज 40 और आलू 25 किलो बेचकर बताने का प्रयास किया है कि हम घाटे में नहीं है।

                           शिवसैनिक नेता ने कहा कि यदि इसके बाद भी सरकार की आंख नहीं खुली तो सैना की टीम सरकार के खिलाफ उग्र आंदोलन करेग।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *