राज्यसभा की छह सीटों के लिए 5 जुलाई को होंगे उपचुनाव,जानें लोकसभा की वजह से कौन-कौन सीट हुए हैं खाली

सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान,उपभोक्‍ता संरक्षण कानून-1986,उपभोक्‍ता संरक्षण विधेयक-2018 पारित,नई दिल्ली-लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) की वजह से राज्यसभा में छह सीट खाली हुई. जिनपर अब उपचुनाव होंगे. 6 सीटों के लिए 5 जुलाई को चुनाव होंगे. ये 6 सीट हैं ओडिशा, बिहार और गुजरात. इसमें एक सीट बिहार से है, दो सीट गुजरात से हैं और तीन सीट ओडिशा से हैं. चुनाव आयोग ने इन सीटों को भरने के लिए चुनाव की तारीख का ऐलान आज यानी शनिवार को किया है.सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करे

ये सीटें तीन सदस्यों के लोकसभा, एक सदस्य के ओडिशा विधानसभा के लिए चुने जाने और एक के राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफ़ा दिए जाने के कारण रिक्त हुई हैं। इस उपचुनाव के लिए अधिसूचना 18 जून को जारी होगी। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह और कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी के लोकसभा चुनाव जीतने से गुजरात से राज्यसभा की दो सीटें तथा केन्द्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद के लोकसभा चुनाव जीतने के कारण बिहार से राज्यसभा की एक सीट खाली हुई है जबकि ओडिशा से तीन सीटें रिक्त हुई हैं।

यह भी पढे-कोरबा के कोयला खदानों और कोलवाशरी में प्रशासनिक टीम का बड़ा छापा, तौलकांटा घर सील, कई गाड़ियां पकडाईं

अचुत्यानंद समांता के लोकसभा चुनाव जीतने, प्रताप केसरी देब के विधानसभा चुनाव जीतने और सौम्य रंजन पटनायक के इस्तीफे के कारण ओडिशा की ये सीटें रिक्त हुई हैं.अमित शाह का राज्यसभा का कार्यकाल 18 अगस्त 2023 तथा श्री प्रसाद का राज्यसभा का कार्यकाल दो अप्रैल 2024 तक था जबकि स्मृति ईरानी का कार्यकाल भी 18 अगस्त 2023 तक था। श्री समांता का कार्यकाल तीन अप्रैल 2024 को समाप्त होना था जबकि श्री देब एक जुलाई 2022 और श्री पटनायक का कार्यकाल तीन अप्रैल 2024 तक था।नामांकन भरने की अंतिम तारिख 25 जून है जबकि नामांकन पत्रों की जांच की तारीख 26 जून है और नाम वापस लेने की अंतिम तारीख 28 जून है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *